नैनीताल चिड़ियाघर में एनएमएचएस द्वारा सर्प विशेषज्ञों को किया गया प्रशिक्षित

ख़बर शेयर करें

नैनीताल। भारत सरकार की योजना के तहत नेशनल मिशन ऑफ हिमालयन स्टडीज के तत्वाधान में नैनीताल के चिड़ियाघर में शुक्रवार को मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं डॉक्टर तेजस्विनी अरविंद पाटील के दिशा निर्देशों में एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों को सर्व व मानव संघर्ष के बारे में विस्तृत जानकारी देना है। इसके अलावा वन विभाग में तैनात तमाम कर्मचारियों को भी सांपों व मानव संघर्ष को लेकर विस्तृत जानकारी दी गई

इस दौरान सीनियर रिसर्च फेलो जिज्ञासु डोलिया द्वारा
वन कर्मियों को इस बात की जानकारी भी दी गई कि कैसे सांप और मानव संघर्ष को कम किया जाए, ताकि सांपों व मानव का जीवन सुरक्षित रह सके। इसके अलावा प्रशिक्षण में तय किया गया कि वन प्रभाग के तहत आने वाले आने वाले करीब 300 गांव में से 3 व्यक्तियों को भी प्रशिक्षण देकर प्रशिक्षित किया जाएगा।जिसमे उनको सांपो की विस्तृत जानकारी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें -  कुमाऊं में कहे जाने वाले प्रवेश द्वार हल्द्वानी के प्रमुख चौराहों पर कुमाऊनी सांस्कृतिक व महापुरुषों के मधुर स्मृतियों से आकर्षित होंगे पर्यटक- डीएम श्री सविन बंसल

इस दौरान जीएन चन्याल, अजय सिंह रावत, डीएन सुनाल,अतुल,भगत, धर्म सिंह, विक्रम, आनंद,भीम सिंह व जितेंद्र रावत सहित वन कर्मी मौजूद रहे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page