एसिड अटैक विषय पर महिला आयोग भारत सरकार द्वारा प्रायोजित तथा वाणिज्य विभाग राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय द्वारा आयोजित एक दिवसीय वेबीनार का आयोजन

ख़बर शेयर करें

एसिड अटैक विषय पर महिला आयोग भारत सरकार द्वारा प्रायोजित तथा वाणिज्य विभाग राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत द्वारा आयोजित एक दिवसीय वेबीनार का आयोजन
आज दिनांक 30 नवंबर 2021 को राज्य की स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत के वाणिज्य विभाग द्वारा एसिड अटैक ए न्यू फेस फॉर जेंडर बेस्ड वायलेंसपर एक दिवसीय वेबीनार का आयोजन किया गया। वेबीनार का संचालन डॉ आशा पार‌छे द्वारा किया गया प्रारंभ में वेबीनार के प्रायोजक राष्ट्रीय महिला आयोग के प्रारूप एवं क्रिया विधि का वर्णन किया। वेबीनार का विधिवत प्रारंभ राजकीय महाविद्यालय रानीखेत के प्राचार्य प्रोफेसर पुष्पेश पांडे द्वारा किया गया। मुख्य अतिथि कुलपति सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय प्रोफेसर एनएस भंडारी तथा संरक्षक प्रोफेसर पीके पाठक निदेशक उच्च शिक्षा निदेशालय उत्तराखंड रहे ,उन्होंने संदेश के माध्यम से आयोजक समिति को मार्गदर्शन दिया तथा आशीर्वाद दिया। वेबीनार का विधिवत उद्घाटन राजकीय महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफेसर पुष्पेश पांडे द्वारा किया गया इस वेबीनार में मुख्य वक्ता की भूमिका में प्रोफेसर विजय रानी ढोंडियाल विभागाध्यक्ष एवं संकायाध्यक्ष शिक्षाशास्त्र सोबन सिंह जीना परिसर एवं विश्वविद्यालय द्वारा महिला हिंसा के सामाजिक पक्ष को उजागर किया गया। उन्होंने बताया कि महिलाओं के प्रति इस तरह से दिन प्रतिदिन हिंसा बढ़ती जा रही है जिन्हें रोकने के लिए समाज को एक साथ आना होगा। प्रोफेसर नीता बोरा शर्मा संयोजक एवं विभागाध्यक्ष डीएसबी परिसर कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल ने अपने व्याख्यान में भारतीय संविधान में वर्णित महिलाओं से संबंधित प्रावधान को विस्तार से समझाया तथा लैंगिक हिंसा पर प्रकाश डाला प्रोफेसर शर्मा द्वारा संयुक्त राष्ट्र की सार्वभौमिक घोषणा तथा महिलाओं के मानव अधिकार, स्वतंत्रता ,समानता एवं सामाजिक भूमिका की चर्चा की। राजकीय महाविद्यालय रानीखेत की प्राध्यापक डॉक्टर माया शुक्ला द्वारा वैदिक काल में महिलाओं की सामाजिक स्थिति एवं वर्तमान की स्थिति का तुलनात्मक विवरण करते हुए महिला हिंसा पर प्रकाश डाला। राजकीय महाविद्यालय सोमेश्वर की प्राचार्य तथा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत की पूर्व प्राचार्य प्रोफेसर हेमा प्रसाद द्वारा कार्यक्रम के सफल संचालन हेतु शुभकामनाएं एवम आशीर्वाद दिया । कार्यक्रम में विधि विभाग एसएसजे परिसर सोवन सिंह जीना विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर डॉक्टर अरशद हुसैन द्वारा एसिड अटैक जैसे जघन्य अपराध के कानूनी प्रावधान को विस्तार पूर्वक समझाया तथा बताया कि किस तरीके से महिलाएं अपने अधिकारों के प्रति जागरूक होकर स्वयं की रक्षा कर सकती हैं। ओपन लर्निंग स्कूल दिल्ली विश्वविद्यालय दिल्ली की प्राध्यापिका डॉक्टर अरुणा कुमारी द्वारा पीपीटी प्रेजेंटेशन के माध्यम से एसिड अटैक के इतिहास तथा विश्व में हो रही हिंसा पर प्रकाश डाला ।उत्तराखंड महिला आयोग उत्तराखंड की पूर्व सदस्य श्रीमती जया जोशी द्वारा एसिड अटैक पीड़ितों के आजीवन शारीरिक एवं मानसिक जैसे संवेदनशील मुद्दों को उठाया इस कार्यक्रम में सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस जनपद नैनीताल श्रीमती प्रियदर्शिनी जी द्वारा संदेश के माध्यम से कार्यक्रम की सफलता के लिए शुभकामनाएं दी गई ।कार्यक्रम के अंत में वेबिनार की संयोजक डॉ बुशरा मतीन सहायक प्राध्यापक वाणिज्य विभाग राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रानीखेत द्वारा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि, अतिथिगण ,प्राध्यापकों, प्रतिभाग कर रहे विद्यार्थियों तथा पत्रकार बंधुओं इत्यादि का धन्यवाद ज्ञापित किया। इस वेबीनार की संयोजक डॉ मतीन तथा आयोजक सचिव डॉ आशा पारछे थी। कार्यक्रम में डॉक्टर जया नैथानी ,डॉक्टर पूजा बोहरा, डॉक्टर दीपा मेहरा रावत, डॉक्टर पारुल बोरा, डॉक्टर नीमा बोरा, तथा डॉ राहुल चंद्रा ने विशेष योगदान दिया। इस कार्यक्रम में अतिथियों तथा प्राध्यापको के साथ-साथ लगभग 150 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया।

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page