सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्राचीन वास्तु शिल्प पर निर्मित होम-स्टे ‘‘हिमालयन बंग्लो‘‘ का किया निरीक्षण

ख़बर शेयर करें

                                                                           

अल्मोड़ा – मा0 मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज जनपद भ्रमण के दौरान होली एंजिल पब्लिक स्कूल के निकट प्राचीन वास्तु शिल्प पर निर्मित होम-स्टे ‘‘हिमालयन बंग्लो‘‘ का निरीक्षण किया। पर्यटन विभाग के दीनदयाल होम-स्टे योजना के अन्तर्गत वित्त पोषित इस होम-स्टे का अवलोकन कर मा0 मुख्यमंत्री द्वारा बेहद प्रंशसा की गयी। उन्होंने कहा कि जनपद में पर्यटन की अपार सम्भावनायें है जिसमें होम-स्टे के अन्तर्गत पर्यटन को बढाया जा सकता है इसके माध्यम से यहाॅ की लोक संस्कृति एवं वास्तुकला को देखने के लिए पर्यटक आकर्षित होंगे। इस होम-स्टे में जिस प्रकार की वास्तुशिल्प का प्रयोग किया गया वह अपने आप में  अनुकरणीय उदाहरण है। उन्होंने कहा कि अन्य लोगो को भी इस तरह के होम-स्टे बनाकर पर्यटन को बढ़ावा देना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि कुमाऊनी शैली पर आधारित इस होम-स्टे की थीम सराहनीय है।

यह भी पढ़ें -  राज्य महिला आयोग द्वारा आयोजित महिला जागरूकता शिविर का किया आयोजन


        मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखण्ड का वास्तुशिल्प एवं संस्कृति बहुत ज्यादा धनी है जिसका उपयोग कर हम यहाॅ पर रोजगार के अवसर पैदा कर पलायन को रोक सकते है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में होम-स्टे को लेकर कई दिक्कते हो रही है इसके लिए निर्णय लिया गया है कि सभी होम-स्टे संचालकों, बैंक अधिकारियों व पर्यटन आदि से जुड़े विभागीय अधिकारियों की एक संयुक्त बैठक कराकर आ रही दिक्कतों को दूर किया जा सके। इस होम-स्टे के संचालक कमल कपूर द्वारा मा0 मुख्यमंत्री को स्मृति चिन्ह् देकर उनका स्वागत किया और होम-स्टे के निर्माण एवं इसके संचालन की विस्तार से जानकारी दी।
                                           

यह भी पढ़ें -  मेलाधिकारी दीपक रावत से किन्नर अखाड़े की आचार्य महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी ने की शिष्टाचार भेंट

                                                                                                     

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page