नैनीताल मे सप्तांत में पर्यटकों की वृद्वि के दृष्टिगत को लेकर धीराज सिंह गर्ब्याल ने ली अधिकारियों के साथ बैठक

ख़बर शेयर करें

नैनीताल – नैनीताल मे सप्तांत में पर्यटकों की वृद्वि के दृष्टिगत मूल आवश्यकताओ एवं पार्किक की व्यवस्थाओ को लेकर जिलाधिकारी श्री धीराज सिह गर्ब्याल ने जिला सभागार में अधिकारियो की बैठक ली। उन्होने कहा कि अनलॉक होने के पश्चात सप्तांत मे नैनीताल नगर में पर्यटकों की संख्या मे वृद्वि हो रही है। जिससे कई स्थानो पर जाम की स्थिति बन रही है। उन्होने प्रशासनिक अधिकारियों एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे यातायात व्यवस्थायें सुचारू एवं सुनिश्चित करवायें। पुलिस अधिकारियों ने अवगत कराया कि चौपहियां वाहनों के साथ ही दोपहियां वाहनो के नगर मे अधिक संख्या मे प्रवेश होने के कारण एवं मार्गो बेतरतीफ वाहनों के संचालन एवं पार्किग से जाम की स्थिति उत्पन्न हो रही है जिस पर जिलाधिकारी ने जाम की स्थिति को नियंत्रित करने व यातायात सुचारू करने हेतु कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये। बैठक मे सुझाव आया कि नैनीताल नगर के विभिन्न स्थानो पर पार्किग स्थल बढाने की जरूरत है साथ ही नैनीताल रूसी बाईपास पार्किग स्थल को व्यवस्थित करते हुये पार्किग सम्बन्धी मूलभूत सुविधाओं जैसे विद्युत, पेयजल, शौचालय, कैन्टीन आदि व्यवस्थायें सुनिश्चित की जांए। एएमए जिला पंचायत अधिकारी स्वयं बैठक में उपस्थित नहीं के कारण उन्होंने अपने टैक्स अधिकारी को बैठक में भेजा था जबकि उनको स्वयं उपस्थित होना था जिलाधिकारी ने उनके उपस्थि न होने पर नाराजगी व्यक्त जताते हुए उनके वेतन को रोकने का निर्देश दिया।
पुलिस अधिकारियों ने सुझाव दिया कि रूसी बाईपास एवं नारायण नगर में चौपहियां वाहनों के संचालन की व्यवस्था की गई है। उसको यथावत रखा जाए साथ ही पर्यटक जो दोपहियां वाहनों द्वारा आ रहे हैं उन्हे भी रूसी बाईपास व नारायण नगर पार्किग मे रोक दिया जाए। इसी प्रकार भवाली की ओर से आने वाले पर्यटक दोपहिया वाहनों को कन्टोमैंट क्षेत्र से पूर्व निर्धारित स्थानों पर पार्क कराते हुये उनके शटल सेवा के माध्यम से नैनीताल शहर में लाने की व्यवस्था की जाए साथ ही शासन द्वारा निर्धारित गाईड लाइन के अनुरूप कोविड जांच की चैकिंग की जाए। शहर वासियों एवं अधिवक्ताओं को उक्त व्यवस्था से छूट दी जाए।

यह भी पढ़ें -  राज्य में प्राकृतिक आपदा से प्रभावित व्यक्तियों को अहेतुक सहायता हेतु जनपदों को 5-5 करोड़ रूपए की धनराशि प्रदान किए जाने पर दी सहमति

जिलाधिकारी श्री गर्ब्याल ने मैट्रोपोल पार्किग से निर्माण सामग्री, मलूवा हटाकर अधिक से अधिक वाहन को पार्क कराने की व्यवस्था कराने के निर्देश अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को दिये साथ ही पार्किग स्थल मे ही पार्किग शुल्क लिया जाए ताकि सडक पर वाहनो की पंक्ति ना लगे और जाम की स्थिति उत्पन्न ना हो। उन्होने तल्लीताल धर्मशाला के पास अवैध पार्किग ना करने के निर्देश भी दिये। उन्होने उपजिलाधिकारी, ईओ एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि हाईकोर्ट के निकट सैन्टजोन्स चर्च से लगी हुई भूमि चिन्हित कर पार्किग हेतु अनापत्ति प्राप्त करें ताकि वहां पर अधिवक्ताओं के वाहनो की पार्किग व्यवस्था की जा सके। उन्होने परियोजना अधिकारी उरेडा को पार्किग स्थल नारायण नगर, रूसी बाईपास मे सोलर लाईट स्थापित करने के निर्देश दिये।

यह भी पढ़ें -  निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं की जायेगी बरदाश्त- आयुक्त सुशील कुमार

जिलाधिकारी श्री गर्ब्याल ने कहा कि तल्लीताल कचहरी परिसर के निकट की भूमि पर जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण द्वारा वाहनों हेतु बहुमंजिला पार्किग का निर्माण किया जाना प्रस्तावित है साथ ही उन्होने कहा कि नैनीताल के समान ही भीमताल नगर मे भी पार्किग की समस्या है, जिसके निराकरण हेतु एलपी इन्टर कालेज का मैदान, डाइट अथवा रामलीला मैदान को पार्किग स्थल के रूप मे विकसित किये जाने हेतु उपजिलाधिकारी एवं सम्बन्धित अधिकारियो को निरीक्षण कर आख्या प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।

बैठक में सचिव झील विकास प्राधिकरण पंकज उपाध्याय, महाप्रबन्धक एपी बाजपेयी प्रीति प्रियदर्शिनीय, एसडीएम प्रतीक जैक, एसपी यातायात/क्राइम देवेन्द्र पींचा, सीओ विजय कुमार थापा, लोनिवि एबी काण्डपाल, गोविन्द सिंह जनौटी, अधिशासी अधिकारी नगरपालिका अशोक कुमार वर्मा के साथ अन्य अधिकारी मौजूद थे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page