शानदार रहा, होली एंजल स्कूल में इनवेस्टीचर सेरेमनी का आयोजन

ख़बर शेयर करें


देहरादून। होली  एंजल स्कूल, रेशम माजरी के तत्वावधान में शनिवार को अलंकरण समारोह (इनवेस्टीचर सेरेमनी) का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि के तौर पर  श्री कमलेश उपाध्याय  एस.पी. ग्रामीण, गैस्ट ऑफ ऑनर डी.एस.पी. अंकुश शर्मा तथा विशिष्ट अतिथि वाई.बी. थापा, कैप्टन हर्षमणि, लांसनायक राजपाल रावत, हवलदार बगीचा सिंह, (सेना मैडल प्राप्त), हवलदार सोबन सिहं कैन्तुरा, श्री रामेश्वर लोधी जी, श्री आशीष चमोली जी, श्री मनीष वत्स जी, श्री अनिल पल जी (प्रधान), श्री रजनीश सैनी जी आदि ने कार्यक्रम में शिरकत की।

सर्वप्रथम दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। उसके बाद स्कूल के छात्र-छात्राओं  द्वारा स्वागत गान प्रस्तुत किया गया। जिसके बाद रंगारंग कार्यक्रम की शुरूआत की गई। जिसमें छात्रों द्वारा गढवाली डांस, देश प्रेम की  भावना से औत-प्रौत आर्मी डांस तथा रोचक कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये।

यह भी पढ़ें -  एसबीआई कार्ड ने भारत के अग्रणी अंतर्राष्ट्रीय गोर्मे कार्ड को लॉन्च करने के लिए नेचर्स बास्केट के साथ की साझेदारी

कार्यक्रम के बीच सेवा निवृत सेना के जवानों को सम्मानित किया गया तथा स्मृति चिन्ह भेट किये गये तथा विद्यालय के काउंसिल मेम्बर के  सदस्य छात्र-छात्राओं को उनके अभिभावकों, मुख्य अतिथियों, विद्यालय के निदेशक तथा प्राचार्य जी द्वारा बैच प्रदान किये गये।

यह भी पढ़ें -  दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस वे से हरिद्वार के लिए भी कनेक्टिविटी

उपस्थित सभी लोगों ने छात्रों के कार्यक्रम में किये गये उत्कृष्ट प्रतिभाग की सराहना की तथा विद्यालय के निदशक डॉ आकश कुसुम बछेती, प्राचार्य श्री जाॅन डेविड नंदा ने कार्यक्रम में आये मुख्य अतिथियों का सहृदय धन्यावाद किया तथा बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना की और कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए विद्यालय के अध्यापकगणों ने भी प्रतिभाग करते हुए छात्रों का उत्साहवर्धन किया। तथा अंत में राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 7017197436 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page