सरोवर नगरी में पर्यटकों की आवाजाही से दिनभर खूब देखने को मिली रौनक

ख़बर शेयर करें

नैनीताल की सरोवर नगरी में रविवार को दिनभर
गुनगुनी धूप खिली रही। गुनगुनी धूप के बीच देश के विभिन्न राज्यों व शहरों से पहुंचे सैलानियों ने नैनी झील में नौकायन करने के साथ ही नगर के दर्शनीय स्थलों का भ्रमण किया। पर्यटकों की आवाजाही से दिनभर सरोवर नगरी में खूब
भीड़ देखने को मिली। जहां एक ओर इन दिनों तराई भावर में घने कोहरे की वजह से लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है वहीं दूसरी ओर तालों के लिये विख्यात नैनीताल में बीते कुछ दिनों से मौसम बेहद खुशनुमा बना है। भले ही सुबह व शाम के वक्त कड़ाके की ठंड महसूस हो रही है लेकिन दिन के वक्त सूरज के किरणों से बेहद राहत मिल रही है।

Matrix Hospital

रविवार को अच्छी धूप के बीच सैलानियों ने नैनी झील में नौका विहार किया। इसके अलावा उन्होंने केव गार्डन, बारापत्थर, टिफिनटॉप, सरिताताल,मौस गार्डन, वाटर फाल, स्नोव्यू, किलबरी, हिमालय दर्शन, पंगूट, हनुमानगढ़ समेत कई दर्शनीय स्थलों का दीदार किया। पर्यटकों ने माल रोड समेत तिब्बती, भोटिया, पालिका बाजारों के साथ ही माल रोड, तल्लीताल व मल्लीताल की बाजारों से खरीददारी की। नगर के अलावा पर्यटक समीपवर्ती भवाली, भीमताल, नौकुचियाताल, गागर, मुक्तेश्वर, कैंची, गरमपानी, रातीघाट, श्यामखेत तथा घोड़ाखाल समेत कई दर्शनीय स्थलों का आनंद लेने के लिए पहुंचे हुए हैं।

यह भी पढ़ें -  पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने शहंशाही आश्रम राजपुर रोड़ से झड़ीपानी मसूरी तक ट्रैकिंग ट्रेक का निरीक्षण

वही नैनीताल में कुछ दिनोंं से चल रही पिक्चर की शूटिंग का एक सूट भोटिया बैंड केे तिब्बती मंदिर में किया जा रहा है मंदिर में शूटिंग हो रही है राजेश अधिकारी राजकीय इंटर कालेज के मौसम विज्ञान केंद्र के प्रभारी प्रताप सिंह बिष्ट ने बताया कि अधिकतम तापमान 17.5 तथा न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि नैनी झील नियंत्रण कक्ष के प्रभारी रमेश सिंह गैड़ा के मुताबिक जलस्तर आधा इंच घटने के बाद लमसम 5 फुट 2 इंच पहुंच चुका है।

यह भी पढ़ें -  मातृभाषा दिवस का विशेष महत्व - पंडित प्रकाश जोशी जानिए
Ad-Pandey-Cyber-Cafe-Nainital
Ad-Jamuna-Memorial
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page