कुमाऊं विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ( कूटा)ने नेता प्रतिपक्ष डॉ. इन्दिरा हृदयेश के निधन पर किया गहरा दुख व्यक्त

ख़बर शेयर करें

कुमाऊं विश्वविद्यालय शिक्षक संघ ( कूटा)ने नेता प्रतिपक्ष डॉ. इन्दिरा हृदयेश के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।डॉ इंदिरा हृदयेश कांग्रेस सरकार में उच्च शिक्षा मंत्री के पद पर भी कार्यरत रही, उच्च शिक्षा मंत्री के पद पर कार्यरत रहते हुए डॉ. हृदयेश द्वारा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किए। वह प्राध्यापकों की समस्याओं को गंभीरता से सुनती थी तथा उन पर अमल करती थी।वर्ष 2000, 2008तथा 2010से कार्यरत सविंदा शिक्षकों के नियमितकरण में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा,उन्होंने उत्तराखंड राज्य के पर्वतीय तथा अति दुर्गम क्षेत्रों में भी महाविद्यालय की स्थापना की जिन महाविद्यालय में संगत विषय नहीं ‌थे विषय खुलवाये, महाविद्यालयों में प्राध्यापकों की नियुक्ति करवाई तथा छात्रहित में कई महत्वपूर्ण कार्य किए। डॉ.हृदयेश बहुत ही सरल व सहज स्वभाव की महिला थी। उनके निधन से पूरे क्षेत्र में शोक की लहर है तथा यह उत्तराखंड की राजनीति के लिए एक अपूर्णनीय क्षति है।
कूटा की तरफ प्रो. ललित तिवारी, डॉ.विजय कुमार, डॉ.सुहैल जावेद, डॉ.दीपिका गोस्वामी, डॉ.दीपक कुमार, डॉ.पैनी जोशी, डॉ.प्रदीप कुमार, डॉ.सीमा चौहान, डॉ.गगन होती, डॉ.रीतेश साह इत्यादि शामिल रहें।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page