डीएसबी परिसर नैनीताल के पूर्व छात्र प्रो.राजीव मोहन पंत बने असम विश्वविद्यालय के कुलपति, कुमाऊं विश्वविद्यालय के साथ साथ उत्तराखंड राज्य भी हुआ गौरवान्वित

ख़बर शेयर करें

कुमाऊं विश्वविद्यालय नैनीताल डी एस बी परिसर नैनीताल के पूर्व छात्र प्रो.राजीव मोहन पंत के असम विश्वविद्यालय सिलचार केन्द्रीय विश्वविद्यालय में कुलपति बनने पर खुशी की लहर। डी एस बी परिसर नैनीताल से वर्ष 1980में आयरपाटा निवासी प्रो.राजीव मोहन पंत ने अध्ययन किया। वह बिरला इंस्टीट्यूट भीमताल में लेक्चर तथा नॉर्थ ईस्टर्न रीजनल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस में एसोसिएट प्रोफेसर तथा प्रोफेसर के पद पर भी कार्यरत रहे तथा नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ रूरल डेवलपमेंट में निदेशक भी रह चुके है। उन्हें असम केंद्रीय विश्वविद्यालय सिलचार, असम का वाइस चांसलर नियुक्त किया है ,उनकी इस उपलब्धि से कुमाऊं विश्वविद्यालय के साथ साथ उत्तराखंड राज्य भी गौरवन्नित हुआ है। कुमाऊं विश्वविद्यालय शिक्षक संघ कूटा ने उन्हें बधाई एवम शुभकामनाएं दी हैं कूटा की तरफ से प्रो.ललित तिवारी, डॉ.विजय कुमार,डॉ.सुहैल जावेद, डॉ.दीपिका गोस्वामी, डॉ.दीपक कुमार, डॉ.पैनी जोशी, डॉ.प्रदीप कुमार, डॉ.सीमा चौहान, डॉ.गगन होती, डॉ.रीतेश साह, डॉ.युगल जोशी,डॉ.ललित मोहन इत्यादि शामिल रहें।

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page