यू०जी०सी० के क्वालिटी मैंडेट के प्रस्तावों को विश्वविद्यालय 2021-22 सत्र से करेगा प्रारम्भ – कुलपति प्रो० एन०के० जोशी

Ad
ख़बर शेयर करें

नैनीताल शुक्रवार 30 जुलाई को कुमाऊँ विश्वविद्यालय के प्रशासनिक भवन में हायर एजुकेशन क्वालिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम मैंडेट के संदर्भ में बैठक की गई। उच्च शिक्षण संस्थानों में टीचिंग एवं लर्निंग को नया आयाम प्रदान करने के साथ ही विद्यार्थियों में इनोवेटिव स्किल तथा क्रिटिकल थिंकिंग को विकसित करने हेतु यूजीसी द्वारा क्वालिटी मैंडेट को तैयार किया गया है। बैठक की अध्यक्षता मा० कुलपति प्रो० एन०के० जोशी द्वारा की गई।

बैठक की अध्यक्षता मा० कुलपति प्रो० एन०के० जोशी ने कहा कि उच्च शिक्षा संस्थानों की गुणवत्ता में सुधार करने हेतु यूजीसी ने हायर एजुकेशन क्वालिटी इम्प्रूवमेंट प्रोग्राम मैंडेट को अपनाया है। इसका उद्देश्य एक बेहतर जीवन जीने के लिए आवश्यक कौशल, ज्ञान और नैतिकता से देश की अगली पीढ़ी को लैस करने के लिए उच्च शिक्षा प्रणाली को विकसित करना है। उन्होंने कहा इसके अन्तर्गत ऐसे पाठ्यक्रमों के विकास की चर्चा की गयी है जिससे शिक्षण संस्थान व समाज का परस्पर जुड़ाव हो, विद्यार्थी सतत् विकास की प्रक्रिया को समझ सकें।

यह भी पढ़ें -  काम की खबर- कुमाऊँ विश्वविद्यालय द्वारा वर्ष 2022 में होने जा रही परीक्षा में हुआ बदलाव, विद्यार्थी परीक्षा देने से पहले इस खबर को एक बार जरूर देख लें

मा० कुलपति ने कहा कि यू0जी0सी0 की गाइड लाईन के अनुरूप हमें क्वालिटी मैंडेट के प्रस्तावों को अपने विश्वविद्यालय में इसी सत्र से प्रारम्भ करना है। इस हेतु एक टीम बनाई गयी है। विश्वविद्यालय के संकायाध्यक्षों तथा विभागाध्यक्षों के दिशा-निर्देश में यह टीम कार्य करेगी। इस कार्यक्रम के सम्बन्ध में नोडल ऑफिसर प्रो० इंदु पाठक द्वारा शीघ्र ही विस्तृत रूपरेखा प्रस्तुत की जाएगी।

Ad
Ad
Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page