संकल्प गीत के साथ किया सात दिवसीय विशेष शिविर के दूसरे दिन का शुभारंभ

ख़बर शेयर करें

टिहरी गढ़वाल के शहीद श्रीमती हंसा धनाई राजकीय महाविद्यालय अगरोड़ा (धारमंडल) की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की सात दिवसीय विशेष शिविर के दूसरे दिन का शुभारंभ स्वयं सेवकों द्वारा संकल्प गीत के साथ किया गया। कार्यक्रम अधिकारी डॉ० आराधना बधानी के दिशा निर्देशन में स्वयंसेवकों ने अधिग्रहित गांव बंगद्वारा में जाकर स्वच्छता अभियान चलाया। साथ ही साथ वहां पर स्थित जल स्रोतों, परिवारों व उनकी व्यवसाय की स्थिति का भी सर्वेक्षण निर्धारित प्रारूप में किया गया। प्रथम सत्र के बौद्धिक सत्र में मुख्य वक्ता के रूप में वनस्पति विज्ञान विभाग के डॉ० भरत गिरी गोसाई ने ‘कोरोना महामारी-प्रकोप व बचाव’ विषय पर अपना व्याख्यान प्रस्तुत किया। उन्होंने बताएं कि कोरोना एक विषाणु जनित रोग हैं। कोरोना महामारी से बचाव हेतु हमें सरकार द्वारा समय-समय पर दिए जा रहे निर्देशों का गंभीरता पूर्वक पालन करना चाहिए। बार-बार हाथों को साबुन और पानी से 20 सेकंड तक धोना चाहिए, खांसते या छिकते समय टिशू व कपड़े का इस्तेमाल करें, 2 गज सामाजिक दूरी का पालन तथा अनिवार्य रूप से मास्क पहने। उन्होंने भारत में कोविड-19 का टीकाकरण तथा स्वदेशी निर्मित कोविशिल्ड तथा कोवाक्सीन के बारे में भी जानकारी दी। द्वितीय बौद्धिक सत्र में मुख्य वक्ता के रूप में जंतु विज्ञान की डॉ० बबीता बट़वाण ने ‘उत्तराखंड में महिलाओं का स्वास्थ्य स्तर’ विषय पर अपना विचार व्यक्त किए। उन्होंने महिलाओं की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं तथा महिला स्वास्थ्य जागरूकता मिशन के बारे में विस्तृत जानकारी दी। बौद्धिक सत्र के पश्चात भूगोल विभाग की डॉ० सुमिता पवार ने एनएसएस स्वयंसेवकों द्वारा की गई दिनभर के कार्यों की चर्चा की। कार्यक्रम के अंत में भूगोल विभाग के डॉ० जितेंद्र शाह ने शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य को कैसे मजबूत बनाया जाए विषय पर अपने विचार बच्चों के साथ साझा किए। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो० विनोद प्रकाश अग्रवाल ने द्वितीय दिवस के शिविर की सफलतापूर्वक संपन्न होने पर बधाई प्रेषित की।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page