एसओएस चिल्ड्रेन्स विलेजेज ने कोविड-19 के कारण माता-पिता की देखभाल खो चुके बच्चों के लिए खोले अपने दरवाजे

ख़बर शेयर करें

देहरादून – एसओएस चिल्ड्रेन्स विलेजेज ऑफ इंडिया ने देश भर में वैसे बच्चों को छोटी या लंबी अवधि तक देखभाल की सुविधा प्रदान करने की घोषणा की है जो महामारी के कारण अपने माता-पिता के खोने के कारण अपने माता-पिता की देखभाल से वंचित हो गए हैं और जिनकी सुरक्षा देखभाल और जिंदगी गंभीर रूप से प्रभावित हुई है और उनकी देखभाल करने वाला अब कोई नहीं है।

एसओएस चिल्ड्रेन्स विलेजेज के महासचिव श्री सुमंत कर ने कहा, “इस कठिन समय के दौरान हम लोगों को एकजुट होकर कोविड-19 से लड़ने के लिए अनुरोध करते हैं, जिसने देश के सामाजिक-आर्थिक ताने-बाने को तबाह कर दिया है। हम यह सुनिश्चित करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं कि हमारी देखरेख में सभी बच्चे सुरक्षित और स्वस्थ हों। हम वंचित समुदायों से संबंधित बच्चों की देखभाल करने के लिए सरकार, कॉरपोरेट्स और सिविल सोसायटी के साथ हाथ मिलाने को तैयार हैं, जिनके परिवार इस महामारी के कारण प्रभावित हुए हैं। हम 22 राज्यों में हमारे 32 चिल्ड्रेन्स विलेजेज में ऐसे बच्चों के लिए छोटी या लंबी अवधि तक देखभाल की सुविधा प्रदान कर रहे हैं। जिन बच्चों के माता-पिता कोविड पॉजिटिव हैं और उनका इलाज चल रहा है, उन्हें उनके माता-पिता के ठीक होने तक अल्पकालिक देखभाल के तहत रखा जा सकता है और जिन बच्चों के माता-पिता का देहांत हो गया है, उन्हें हमारे फैमिली लाइक केयर प्रोग्राम उर्फ चिल्ड्रेन्स विलेजेज में दीर्घकालिक देखभाल के तहत रखा जा सकता है। यदि आप हमारी परियोजनाओं के समीप किसी ऐसे बच्चे के संपर्क में आते हैं, जिन्हें देखभाल की जरूरत है तो कृपया हमारे हेल्पलाइन नंबर 18002083232 पर फोन करें [email protected] पर ईमेल करें। हमें बच्चे तक पहुंचकर सर्वोत्तम संभव तरीके से उनकी मदद करने पर खुशी होगी।”

यह भी पढ़ें -  पद्मश्री प्राप्तकर्ता प्रेमचन्द्र शर्मा को सीएम ने किया सम्मानित

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page