राज्य स्थापना के समय के राज्य में सफाई कर्मचारियों के पद को पुनर्जीवित करने का किया जाएगा परीक्षण

Ad
ख़बर शेयर करें

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के समक्ष मंगलवार को मुख्यमंत्री कैंप कार्यालय में सफाई कर्मचारी संगठन संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने सफाई कर्मचारियों की विभिन्न समस्याएं रखी। मुख्यमंत्री ने कहा कि सफाई कर्मचारियों की सभी समस्याओं को गम्भीरता से लिया जायेगा। समस्याओं के उचित समाधान के लिए हर सम्भव प्रयास किये जायेंगे।
      सफाई कर्मचारी संगठन संयुक्त मोर्चा के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री के समक्ष राज्य बनने के समय के सफाई कर्मचारियों के नियमित पदों को पुनर्जीवित करने एवं सफाई कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि करने की मांग की।
      मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी  ने कहा कि राज्य स्थापना के समय सफाई कर्मचारियों के जितने पद राज्य में थे, उनको पुनर्जीवित करने के लिए पत्रावली का पूर्ण परीक्षण किया जायेगा और उचित समाधान निकाला जायेगा। मोहल्ला स्वच्छता समिति के सफाई कार्मिकों को 10 हजार रूपये का प्रतिमाह मानदेय पर विचार किया जाएगा। इनको अभी 08 हजार रूपये प्रतिमाह मानदेय दिया जा रहा है।
      इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री श्री बंशीधर भगत, सचिव श्री शैलेश बगौली, निदेशक शहरी विकास श्री विनोद कुमार सुमन, सफाई कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष श्री अमीलाल, उपाध्यक्ष श्री अजय राजौर, श्री बलवीर सिंह, श्री  राम अवतार राजौर, श्री महेन्द्र सिंह राही, श्री भगवत मकवाना, श्री हरीश बाल्मीकि एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page