नैसर्गिक सौंदर्य से परिपूर्ण उत्तराखंड देश-दुनिया के पर्यटकों के लिए सबसे पंसदीदा टूरिस्ट डेस्टिनेशन

Ad
ख़बर शेयर करें


नैसर्गिक सौंदर्य से परिपूर्ण उत्तराखंड देश-दुनिया के पर्यटकों के लिए सबसे पंसदीदा टूरिस्ट डेस्टिनेशन बनता जा रहा है। न सिर्फ मसूरी, नैनीताल जैसे पर्यटक स्थल बल्कि औली, खिर्सू, चोपता जैसे तमाम स्थान भी उनके पसंदीदा स्थलों में से शामिल हैं।
हिमालय की गोद में स्थित उत्तराखंड देवों की भूमि के नाम से प्रसिद्ध है। उत्तराखंड अपनी प्राकृतिक सौंदर्य और धार्मिक स्थलों के कारण भारत की प्रमुख पर्यटन स्थलों की गिनती में बेशुमार है जिसे निहारने दुनिया भर से लोग प्रतिवर्ष यहां आते हैं। इस लेख के जरिए हम आपको उत्तराखंड के उन प्रसिद्ध स्थलों की जानकारी देंगे, जहां आप अपनी सर्दियों की छूट्टियों को यादगार बना सकते हैं।


औली
भारत के उत्तराखंड में स्थित औली हरे-भरे देवदार के पेड़ों से घिरा हुआ है। यह स्थान विभिन्न प्रकार की वनस्पतियों और जीवों के लिए घर होने के अलावा, यह कई तरह के साहसिक गतिविधियों जैसे स्कीइंग, ट्रेकिंग और कैम्पिंग के लिए जाना जाता है। औली के उत्तर में, बद्रीनाथ मंदिर है जो हिंदुओं के सबसे पवित्र तीर्थ स्थलों में से एक है। यहां पर आपको एक और अन्य आकर्षण वैली ऑफ फ्लॉवर्स नेशनल पार्क है जो अल्पाइन वनस्पतियों और वन्यजीव जैसे हिम तेंदुओं और लाल लोमड़ियों के लिए प्रसिद्ध है। पर्यटकों के बीच बढ़ती लोकप्रियता चलते औली पर्यटकों के लिए मनपसंद गंतव्य में से एक है।
मसूरी
मसूरी उत्तराखंड की सबसे खूबसूरत और लोकप्रिय जगहों में से एक है। इसे पहाड़ों की रानी भी कहा जाता है। मसूरी, देहरादून से लगभग 35 किलोमीटर दूर है। यहां हर साल लाखों लोग अपनी फैमिली, दोस्तों के साथ कैम्पटी फॉल, गन लेक और मसूरी लेक जैसी जगहों पर घूमने आते हैं।


चोपता
चोपता उत्तराखंड में केदारनाथ की अद्भुत घाटी में बसा एक छोटा गांव है जोकि एक बहुत ही आकर्षक पर्यटन स्थल है। चोपता ट्रेक सर्दियों के मौसम में ट्रेकिंग करने के लिए भारत के सबसे अद्भुद और रोमांचक ट्रेकों में से एक है जो बड़ी संख्यां में ट्रेकर्स और पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करता है। वास्तव में सर्दियों के मौसम में बर्फ से ढके हिमालय के पहाड़ों के बीच ट्रेकिंग करना जीवन के सबसे शानदार अनुभवों में से एक है।
चमोली
चमोली उत्तराखंड में सर्दियों में घूमने लायक महत्वपूर्ण जगहों में से एक है। खासकर भगवान शिव के मंदिर के लिए बहुत अधिक प्रसिद्ध हैं। गोपेश्वर पर्यटन के दौरान चमोली जिले में आने वाले पर्यटक गढ़वाल हिमालय पर होने वाली ट्रेकिंग के लिए जाना पसंद करते हैं। ट्रेकिंग के दौरान प्रकृति प्रेमी यहाँ कि सुन्दर वादियों और खूबसूरत दृश्यों का लुत्फ़ उठाना नही भूलते हैं।

यह भी पढ़ें -  8 व 9 मार्च को होगा ‘वसन्तोत्सव-2022’ का आयोजन, "फूलों की होली’ सांस्कृतिक कार्यक्रम की मुख्य थीम"

खिर्सू
उत्तराखंड के पौड़ी जिले में पड़ने वाला छोटा सा गांव खिर्सू अपनी प्राकृतिक सुंदरता से पर्यटकों को खासा लुभाता है। खिर्सू उत्तराखंड के खूबसूरत और शांत पर्यटन स्थलों में से एक है। इस छोटे से गांव में बांज, देवदार, चीड़, बुरांश के पेड़ों बीच पक्षियों का कलरव सुनाई देता है। यहां से आप बर्फ से ढकी चोटियों की मनोरम श्रृंखला देख सकते हैं।


धनोल्टी
गढ़वाल हिमालय श्रृंखला की तलहटी में मौजूद धनोल्टी एक मनभावक हिल स्टेशन है। यह भारत की राष्ट्रीय राजधानी के करीब है और समुद्र तल से 2286 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यहां आप ऊंचे-ऊंचे हिमालय के खूबसूरत नजारों का भरपूर मजा ले सकते हैं। दिसंबर और जनवरी में बर्फबारी का मजा लेने के लिए एक बार आपको धनोल्टी भी जरूर जाना चाहिए।


रानीखेत
स्थानीय दर्शनीय स्थलों की यात्रा से लेकर पैराग्लाइडिंग और आसपास के अद्भुत नज़ारों का आनंद लेने के लिए रानीखेत सबसे अच्छे विकल्पों में से एक है। कैंपिंग और ट्रेकिंग जैसी साहसिक गतिविधियों के लिए रानीखेत पसंदीदा जगहों में से एक है। झूला देवी मंदिर, भालू बांध और सेब का बगीचा यहां के सबसे प्रसिद्ध स्थान हैं।

यह भी पढ़ें -  खास ख़बर- जनपद में 12 अगस्त तक हर घर जल उत्सव का चलाया जायेगा अभियान- डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल

नैनीताल
नैनीताल झील शहर के रूप में जाना जाता है और प्रकृति से भरपूर है। सूर्य की किरणों के नीचे आराम से नैनी झील में नाव की सवारी का आनंद लेने के लिए इको केव गार्डन और नैनीताल चिड़ियाघर में जाने के लिए, पूरे परिवार के लिए घूमने के लिए बहुत सारे स्थान हैं। साहसिक खेलों के शौकीनों के लिए चीना पीक पसंदीदा जगहों में से एक है।

Rishikesh, yoga city India, Ganges River Ganga Ram Jhoola (Bridge)

बिनसर
अगर शहर के कोलाहल से ऊब गए हैं और सुकून के कुछ पल बिताना चाहते हैं तो उत्तराखंड के बिनसर घूम आइए. बिनसर अनछुए प्राकृतिक वैभव और शांत परिवेश के लिए मशहूर है। यहां घने देवदार के जंगलों के बीच से हिमालय पर्वत श्रृंखला का मनोरम दृश्य दिखता है। यहां की घाटियां आपकी आंखों को सुकून देंगी। पैदल रास्ते, बर्फ से ढकी हिमालय की चोटियों और सुरम्य घाटियों के साथ, बिनसर एकांत और शांति चाहने वालों के लिए सबसे अच्छी जगह है।
उत्तराखंड पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने बताया कि उत्तराखण्ड में वर्ष भर पर्यटन आधारित गतिविधियों के आयोजन के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। जैसे-जैसे सर्दी नजदीक आ रही है उत्तराखंड में स्कीइंग, पैराग्लाइडिंग, कैंपिंग, हाइकिंग जैसी गतिविधियों के लिए अनुकूल वातावरण है। हम अपने शीतकालीन कार्यक्रमों का आयोजन करके पर्यटकों को सर्वाेत्तम अनुभव प्रदान करने के लिए आगे काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण समय में उत्तराखंड पर्यटन विकास बोर्ड पर्यटकों और हितधारकों की अधिकतम स्वास्थ्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए समर्पित है। हम पिछले वर्षों की तरह सभी तैयार शीतकालीन कार्यक्रमों को आयोजित करने के लिए समीक्षा बैठकें आयोजित कर रहे हैं।


लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page