पटरी पर फिर लौटी चिकित्सा सेवाएं, हृदय रोगियों के इलाज के लिए उत्तराखण्ड सरकार ने मेडिट्रीना हॉस्पिटल से किया एमओयू

ख़बर शेयर करें

-देहरादून के कोरोनेशन अस्पताल में फिर शुरू हुआ हार्ट सेंटर, राज्य कर्मचारी, आयुष्मान भारत योजना, बीपीएल, ईएसआईसी, ईसीएसएच, सीजीएसएच कार्ड धारको को मिलेगा नि:शुल्क इलाज

  • अब बच्चों के हृदय रोगों का भी होगा इलाज

देहरादून, 16 मार्च, 2022। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने बड़ा निर्णय लेते हुए देहरादून के कोरोनेशन अस्पताल में हृदय रोगियों को बेहतर इलाज के लिए केरल के ख्याति प्राप्त मेडिट्रीना हॉस्पिटल्स से हृदय के इलाज के लिए करार किया है। बुधवार को देहरादून में प्रदेश चिकित्सा मुख्यालय पर आयोजित बैठक में चिकित्सा विभाग की डॉयरेक्टर जनरल डॉ तृप्ति बहुगुणा और मेडिट्रीना हॉस्पिटल के चैयरमेन एवं मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ. एन प्रथाप कुमार के बीच एमओयू साइन किया गया। इस अवसर पर पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) सहनिदेशक डॉ तुहिन और मेडिट्रीना के नॉर्थ जोन सीओओ (चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर) प्रवीण तिवारी भी शामिल रहे।

प्रवीण तिवारी ने बतााया कि उत्तराखण्ड सरकार मेडिट्रीना हॉस्पिटल के साथ सात साल के लिए अनुबंध हुआ है। जिसमें उनके विशेषज्ञ कार्डियोलॉजिस्ट की टीम आधुनिक तकनीक से जटिल से जटिल हार्ट सर्जरियां करने में सक्षम है। राज्य के सरकारी सेवारत व सेवानिवृत्त राज्य कर्मचारी, आयुष्मान भारत योजना, बीपीएल, ईएसआईसी, ईसीएसएच, सीजीएसएच कार्ड धारक हद्य रोगियों को नि:शुल्क और सामान्य श्रेणी के मरीजों को रियायती दरों पर सरकारी इलाज मिलेगा। खास बात यह रहेगी कि यहां बच्चों के हृदय रोग संबंधित उपचार और सर्जरियां भी की जा सकेगी। उत्तराखण्ड देश का पांचवां राज्य होगा जहां के हृदय रोगियों को मेडिटीना अस्पताल अपनी आधुनिक तकनीक से बेहतर और सुरक्षित इलाज देगा। वर्तमान में मेडिट्रीना ग्रुप चार राज्यों और दो अंतर्राष्ट्रीय लोकेशंस में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ मिलकर हृदय रोगियों का इलाज कर रहे। जिसमें हरियाणा राज्य के फरीदाबाद, पंचकुला, अंबाला, गुरूग्राम, झारखण्ड राज्य के जमशेदपुर, केरल में कोल्लम, त्रिवेन्द्रम, यूपी के आजमगढ़ सहित अंतर्राष्ट्रीय लोकेशंस मालदीव और केन्या में इंदिरा गांधी मेमोरियल हॉस्पिटल में अपने हार्ट सेंटर सफलता पूर्वक चला रहा हैं।

यह भी पढ़ें -  कोविड से लङाई में संत समाज भी आगे आया, CM को सौंपा 50 लाख का चैक

मेडिटीना ग्रुप के सीओओ प्रवीण तिवारी ने डॉ. प्रथाप के बारे में जानकारी देते हुए बताया की वह कार्डियोलॉजिस्ट के एक संगठन, नेशनल इंटरवेंशनल काउंसिल के चेयरमैन हैं और आईजेसीटीओ के पाठ्यक्रम डायरेटर हैं, संगठन कार्डियोलॉजिस्ट को सीटीओ करने के लिए शिक्षित ·रता है। वह सीटीओ, एलएमसीए और केल्सीफाइड घावों जैसे जटिल कोरोनरी रोगों के सफल उपचार में माहिर हैं। और विदेशी धरती पर भी ऑपरेशन कर चुके हैं, और अब तक 18000 से अधिक एंजियोप्लास्टी कर चुके हैं। एम्स दिल्ली, पीजीआई चंडीगढ़, सूबेदारजंग अस्पताल दिल्ली और चेन्नई रामचंद्र मेडिकल कोलेज के अनुभवी कार्डियोलॉजिस्ट की एके बड़ी टीम अकेले हरियाणा राज्य में मेडिटिना ग्रुप के लिए काम करती है।

यह भी पढ़ें -  विश्व पर्यावरण दिवस का महत्व

डॉ. एन प्रथाप कुमार, चेयरमेन एवं एमडी, मेडिट्रीना हॉस्पिटल “उत्तराखण्ड सरकार ने हृदय रोगियों के इलाज के लिए हम पर जो भरोसा जताया है हम उनकी उम्मीदों पर खरा उतरेंगे। कोरोनेशन अस्पताल में हार्ट सेंटर संचालन के लिए स्टॉफ नियुक्तत किया जा रहा है, 15 दिन में सर्जरियां शुरू कर दी जाएगी। ओपीडी सेवाएं चालू हैं।”

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page