उत्तराखंड पुलिस वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन के तत्वाधान में पुलिस परिवार की महिलाओं एवं बच्चो द्वारा होली मिलन के अवसर पर किये गए विभिन्न सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रम

Ad
ख़बर शेयर करें

डॉ0 अलकनंदा अशोक की गरिमामय उपस्थिति में (UPWWA) के बैनर तले पुलिस परिवार की महिलाओं एवं बच्चों द्वारा होली मिलन के अवसर पर किए गए विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम

उत्तराखंड पुलिस वाइव्स वेलफेयर एसोसिएशन (UPWWA) के तत्वाधान में आज दिनांक 15 मार्च 2022 को रिजर्व पुलिस लाइन नैनीताल प्रांगण में पुलिस परिवार की महिलाओं एवं बच्चो द्वारा होली मिलन के अवसर पर विभिन्न सांस्कृतिक रंगारंग कार्यक्रमो में प्रतिभाग किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डा0 अलकनंदा अशोक, पंतनगर टेक्निकल यूनिवर्सिटी की (डीन) रही।
होली मिलन कार्यक्रम के अवसर पर श्रीमती अलकनंदा अशोक द्वारा अपने वक्तव्य में कहा गया कि उपवा के बैनर तले पुलिस परिवार की महिलाएं एवं उनके पारिवारिक सदस्यों को अपनी योग्यता एवं रूचि के अनुसार नया प्लेटफार्म मिला है। जिससे पुलिस परिवार की महिलाएं ना सिर्फ विभिन्न कार्यक्रमों में प्रतिभाग/सहभागितायें निभा रही हैं वरन रोजगार के नए आयामों को भी हासिल कर रही हैं। कार्यक्रम में प्रतिभाग करने वाले पुलिस परिवार की महिलाओं एवं बच्चों को मुख्य अतिथि महोदया डा0 अलकनंदा अशोक द्वारा नगद पुरस्कार एवं स्मृति चिह्न से नवाजा गया।
होली मिलन कार्यक्रम के अवसर पर मुख्य अतिथि महोदया डा0 अलकनंदा अशोक, डीन टेक्निकल यूनिवर्सिटी पंतनगर, श्रीमती यामिनी खन्ना, श्रीमती दीपाली भरणे, उपवा नैनीताल की जिला अध्यक्षा श्रीमती हेमा बिष्ट, श्रीमती विनीता जगदीश चंद्र, श्रीमती गुरमीत कौर, श्रीमती अनीता भाकुनी, महिला उपनिरीक्षक श्रीमती आशा बिष्ट, श्रीमती अंजुला जॉन के अतिरिक्त नैनीताल पुलिस परिवार की समस्त महिलाएं एवं अन्य सदस्या मौजूद रही। संपूर्ण कार्यक्रम को सकुशल संपन्न कराने में कार्यक्रम के व्यवस्थापक श्री भगवत सिंह राणा, श्रीमान प्रतिसार निरीक्षक नैनीताल का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page