उपलब्धि- अमेरीका में छाया डॉ. मेघल का जादू – मिला सम्मान

ख़बर शेयर करें

“अमेरिका की धरती से प्राप्त इस अवॉर्ड का महत्व शब्दों में बता पाना मेरे लिए संभव नहीं। ये एक तरह से एक खूबसूरत सरप्राइज़ है मेरे लिए। मुझे तो पता भी नहीं था कि इस अवॉर्ड के लिए मुझे नामित भी किया गया है। इतना ही कह सकती हूं कि बेहद खुश हूं। अपने प्रशंषकों और शुभचिंतकों की आभारी हूं।” – कहती हैं डॉ. मेघल।
अपने कई पुरस्कारों में डॉ. मेघल ने एक और अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार जोड़ दिया है। यह अवॉर्ड विगत सप्ताह डॉ. मेघल को उनके साहित्य और कला के क्षेत्र में, विशेषकर अंग्रेज़ी साहित्य में दिए गए योगदान के लिए प्राप्त हुआ है। एक साहित्यकार और गायिका के रूप में विदेशों में डॉ. मेघल की अपार लोकप्रियता और सफ़लता के मद्देनज़र ये पुरस्कार, इंटरनैशनल अवॉर्ड फॉर आउटस्टैंडिंग वर्क, उन्हें अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को से प्राप्त हुआ है। यह एक प्रतिष्ठित पुरस्कार है जो कि स्वयं अंतर्राष्ट्रीय ज्यूरी द्वारा नामित विश्व स्तर पर कार्य कर रही लोकप्रिय विभूतियों को दिया जाता है।
सन 2022, में भारत से डॉ. मेघल के साथ इस अवॉर्ड से नाईजीरिया के डिफेंस मिनिस्टर, नाईजीरिया की प्रिंसेस ल्यो एवं अठ्ठाराह अन्य देशों यूक्रेन, जॉर्जिया, बेलारुस, फ़्रांस, जर्मनी, स्पेन एवं इटली की विश्व प्रसिद्ध शक्शियतों को पुरस्कृत किया गया है। ये देश के लिए गर्व की बात है। डॉ. मेघल ने पुनः अपनी योग्यता सिद्ध करते हुए देश के लिए यह सम्मान जीता है। ज्ञात हो कि, डॉ. मेघल संगीत,साहित्य,कला,पत्रकारिता और समाज सेवा के क्षेत्रों में अथक कार्य कर रहीं हैं और इससे पूर्व भी उन्होंने कई उपलब्धियां हासिल की हैं।
“क्वीन ऑफ कुमाऊँ” के नाम से प्रख्यात, बहुमुखी प्रतिभा सम्पन्न डॉ.मेघा भारती “मेघल” का नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं।  मेघल एक गायिका, गीतकार और कवयित्री के रूप में मुम्बई के बॉलीवुड में अपनी एक ख़ास जगह बना चुकी हैं। टी.वी.शो में बतौर एंकर भी नज़र आ चुकी हैं।  ख़ास है कि मेघल, उत्तराखंड की प्रथम एवं एकमात्र महिला गीतकार और कम्पोज़र हैं। और मुम्बई में बतौर एंकर टी.वी. पर आने वालीं पहली महिला भी बन चुकी हैं। टी. वी. ही नहीं मेघल फ़िल्मों में भी अपना जलवा बिखेर चुकी हैं। उनकी फ़िल्म के लिए उनका चयन अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म फेस्टिवल में बतौर गीतकार हुआ। उन्हें इसके लिए अवार्ड्स भी मिले। फ़िल्म में किया उनका नृत्य भी उनके लिए बहुत प्रसिद्धि लेकर आया। साथ ही, मेघल बॉलीवुड में माया गोविंद, सुनील पाल, पंडित किरण मिश्र, अभिलाष, नेहा शरद, इत्यादि, जैसे कई दिग्गज कलाकारों के साथ कई शोज़ कर चुकी हैं।
    महाराष्ट्र सरकार द्वारा भी मेघल को उनके कार्यों के लिए सम्मानित किया जा चुका है। अपने लिखे और कंपोज़ किए गीतों से मेघल आम जनता के साथ- साथ अन्तर्राष्ट्रीय फ़िल्म फेस्टिवल में भी खासी प्रशंसा लूटकर उत्तराखंड का नाम पहले भी विश्वपटल पर लिखवा चुकी हैं। डॉ.मेघल अंग्रेजी साहित्य में पी.एच.डी हैं और विश्वविद्यालय परिसर, में अ. प्रोफेसर के पद पर भी कार्यरत रहीं हैं।  इनके कविता संकलन एवं नारीवाद पर पुस्तकें भी प्रकाशित हो चुकी हैं, जिन्हें पूर्व में भी अमेरिका से फाइव {5} स्टार रेटिंग्स भी प्राप्त हैं। इनके लेखन का विभिन्न राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय भाषाओं में अनुवाद भी हो चुका है। मेघल कई राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय पत्र एवं पत्रिकाओं में बतौर ब्यूरो-चीफ़, स्तम्भकार, सम्पादक, समीक्षक, पैनल मैम्बर और बोर्ड मैम्बर भी सक्रिय हैं।
बहुत कम उम्र से ही डॉ. मेघल कई पुरस्कारों और ख़िताबों इत्यादि से भी नवाज़ी गईं हैं।  इस विशेष पुरस्कार के लिए वे देश-विदेश से प्राप्त हो रही बधाईयों से ख़ासा भावुक हैं।
                    

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page