डीएम सविन बंसल ने कार्यदायी संस्था ग्रामीण निर्माण विभाग को अवमुक्त किये 23.62 लाख की धनराशि

ख़बर शेयर करें

नैनीताल – गत वर्ष जिलाधिकारी श्री सविन बंसल ने जवाहर नवोदय विद्यालय सुयालबाडी का निरीक्षण कर अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व अभिभावकों से मुलाकात कर प्रबन्ध समिति की बैठक ली। निरीक्षण दौरान जिलाधिकारी ने पाया कि बच्चे सीमेन्ट से बने पलंगों पर सो रहे है। बच्चों ने अवगत कराया गया कि सीमेन्ट के पलंग पर सोने पर उन्हे ठण्ड लगती है। जिस पर जिलाधिकारी ने बच्चों के छात्रावास में प्रत्येक बच्चों हेतु प्लाईबुड की पलंग देने व अभिभावकों तथा आगन्तुकों के लिए मुख्य द्वार के पास शैड व शौचालय बनाने का वादा किया था। जिलाधिकारी ने 23.62 लाख अवमुक्त कर अपना वादा पूरा किया।


बच्चों की शिक्षा व स्वास्थ्य के प्रति बेहद संजीदा जिलाधिकारी श्री बंसल का मनना है कि बच्चे राष्ट्र का भविष्य है उनको बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधा के साथ ही उनका व्यक्तित्व निमार्ण हम सभी का दायित्व है। छात्र-छा़त्राओं के बौद्धिक विकास हेतु स्वस्थ शरीर, मस्तिस्क अति आवश्यक है। जिसके लिए बेहतर नींद, खेल कूद व गुणवत्तापूर्ण शिक्षा अति आवश्यक है।
श्री बंसल ने प्रबन्ध समिति की बैठक में प्रधानाचार्य द्वारा प्रस्तुत विद्यालय सम्बन्धी 14 बिन्दुओं पर प्रस्तुत की गई थी। समस्याओं पर विचार करते हुये छात्र हितों को ध्यान मे रखते हुये अधिकाशं बिन्दुओ पर अपनी सहमति व्यक्त की थी। उन्होने कहा कि विद्यालय की बेहतरी एवं सुदृढीकरण के लिए खनन निधि न्यास से वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराये जायेगे। उन्होने पाया कि विद्यालय परिसर में बच्चो के खेलने के लिए उचित स्थान नही है। उन्होने बालिका छात्रावास के पास खाली भूमि पर बास्केटबाल तथा वॅालीबाल ग्राउन्ड आरईएस विभाग से बनवाने के निर्देश दिये। इन मैदानोें के निर्माण में तकनीकी मार्गदर्शन सहायक निदेशक खेल अख्तर अली द्वारा दिया जायेगा। श्री बंसल ने पाया कि छात्र-छात्रायंे जिस बैड पर सो रहे है छात्रओें का बैड प्लाई का ना होकर सीमेन्ट का बना हैै इस पर उन्होने कडी नाराजगी व्यक्त की थी। उन्होने खनन निधि न्यास से सभी बच्चों के बैड पर प्लाई लगाई जायेगी। जिस हेतु जिलाधिकारी ने 23.62 लाख की धनराशि कार्यदायी संस्था ग्रामीण निर्माण विभाग को अवमुक्त किये। प्रधानाचार्य राज सिंह ने बताया कि विद्यालय में प्लाईबुड से बैड बनाने का कार्य प्राराम्भ हो गया है। जिसके लिए प्रधानाचार्य व छात्र-छात्राओं ने जिलाधिकारी श्री बंसल का आभार व्यक्त किया।
जिलाधिकारी ने विद्यालय के चारोें ओर सुरक्षात्मक बचाव तथा जंगली जानवरो की सुरक्षा के लिए 12 सोलर लाईट लगाने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होने कहा विद्यालय मे अध्ययरत छात्र-छात्राओं का प्रत्येेक तीन माह में स्वास्थ्य परीक्षण आरबीएसके की टीम द्वारा किया जायेगा। उन्होने जिले के सभी नवोदय विद्यालयोें, राजीव नवोदय विद्यालयो तथा केन्द्रीय विद्यालयोें मे अध्ययरत बच्चो के स्वास्थ परीक्षण का कार्य स्वास्थ विभाग के रोस्टर मे शामिल करें। उन्होने अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान एसके उपाध्याय को विद्यालय मे कोसी नदी से हो रही जलापूर्ति के लिए अतिरिक्त पम्प सैट क्रय करने तथा पेयजल सम्बन्धी व्यवस्थाओ को सुदृढ करने के प्रस्ताव आगामी जिला योजना मे शामिल करने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी की इस सार्थक प्रयास से छात्र-छात्राओं के आत्मविश्वास मे वृद्वि हुई है निश्चय ही उनके परीक्षा परिणामों मे गुणात्मक सुधार सामने आयेगा। बेहतर सुविधायें गुणात्मक सुधार एवं बेहतर परिणामों की कुंजी है।

यह भी पढ़ें -  कृषि उत्पादन मण्डी समिति परिसर किच्छा में बहुद्देशीय शिविर का हुआ आयोजन

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page