भारत निर्वाचन आयोग द्वारा (पीडब्लूडी) प्रशन विथ डिसेबलटीस एप को किया लांच, इस एप के माध्यम से कर सकते हैं ऑनलाईन दिव्यांग मतदाता पंजीकरण हेतु आवेदन व ह्विलचियर की बुकिंग

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी – भारत निर्वाचन आयोग एंव जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी धीराज सिह गर्ब्याल के निर्देशो के क्रम में सोमवार को गौलापार स्थित नेशनल एसोसिएशन फॉर द ब्लाइण्ड नैव में अध्ययन कर रहे दिव्यांग छात्र-छात्राओं को ईवीएम एंव वीवीपैड का प्रदर्शन व उसके उपयोग के विषय र्स्पश करवाकर जिला निर्वाचन के हरीश चन्द्र पाण्डे व योगेश कुमार द्वारा दिव्यांगजन छात्र-छात्राओं को प्रशिक्षण दिया गया। ताकि लोकतन्त्र में दिव्यांग अपनी सहभागिता कर सकें। प्रशिक्षण के दौरान उन्होने बताया कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा (पीडब्लूडी) प्रशन विथ डिसेबलटीस एप को लांच किया गया है जिसका उद्देश्य दिव्यांगजनों की मतदान में भागीदारी बढाना, दिव्यांगजनों को मतदान हेतु प्रोत्साहित करना एवं उनको सुगम निर्वाचन हेतु सत प्रतिशत सम्पूर्ण सुविधायें एवं मदद उपलब्ध कराना है। एप के माध्यम से दिव्यांगजन ऑनलाईन दिव्यांग मतदाता पंजीकरण हेतु आवेदन, ह्विलचियर हेतु बुकिंग कर सकते है।
इस अवसर सहायक नोडल अधिकारी प्रशिक्षण राहुल आर्या, नैब सचांलक श्याम धानक आदि मौजूद थे।


2. जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी श्री धीराज सिंह गर्ब्याल ने बताया कि जनपद में आचार सहिंता प्रभावी होने के फलस्वरूप चुनाव को शातिपूर्ण एंव निष्पक्ष समपन्न कराने हेतु उन्होने जनपद के समस्त शस्त्र धारकों से अनुरोध किया है कि वे अपने-अपने शस्त्रों को निर्धारित समय के अन्तर्गत निकटतम थानों में जमा करवाना सुनिश्चित करें। यदि समयान्तर्गत जमा नही किये जाने की दशा में भारतीय दण्ड सहिता धारा-188 के तहत आवश्यक कार्यवाही अमल में लाते हुए सम्बन्धित शस्त्र धारक के शस्त्र लाइसेंस को निस्त किये जाने की कार्यवाही भी अमल में लाई जायेगी।

यह भी पढ़ें -  हिंदू धर्म के अनुयायियों को हिंदू परंपरा के अनुसार मनाना चाहिए जन्मदिन न कि पाश्चात्य परंपरा से

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page