पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए ‘‘उत्तराखण्ड ट्रैवल डायरी’’ पर आधारित है यह फिल्म-नरेश बंसल

ख़बर शेयर करें

देहरादून – उत्तराखण्ड राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पीएचडी चैम्बर आॅफ काॅमर्स एण्ड इंडस्ट्री और ट्रैवल एक्सपी द्वारा संयुक्त रूप से प्रैसवार्ता का आयोजन किया गया। प्रैसवार्ता का उद्घाटन मुख्यअतिथि राज्य सभा सदस्य नरेश बंसल व विशिष्ट अतिथि अनुकृति गुसांई मिस एशिया वर्ल्ड ने किया। उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद के अधिकारियों ने राज्य के पर्यटन को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ावा देने के मकसद से इस पहल की सराहना की।

मुख्य अतिथि नरेश बंसल राज्य सभा सदस्य ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि पर्यटन को विश्व मानचित्र में लाने के लिए राज्य सरकार व उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद निरंतर प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस फिल्म के माध्यम से राज्य में पर्यटकों की आमद बढ़ेगी। जिससे यहां ट्रैवलर, टैक्सी ड्राईवरों व स्थानीय युवाओं के लिए रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। उन्होंने कहा कि अगले पांच सालों में उत्तराखण्ड के पर्यटन को मजबूत बनाना है। उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 13 डिस्ट्रिक 13 डेस्टिनेशन लेकर आया है। राज्य सभा सदस्य ने कहा कि राज्य सरकार का संकल्प है कि आने वाले कुछ सालों में राज्य के पर्यटन को टाॅप थ्री पर ले जाना है। 

यह भी पढ़ें -  नैनीताल मुख्याल में भव्य रूप से मनाया गया राष्ट्र का 72वाॅ गणतंत्र दिवस

विशिष्ट अतिथि अनुकृति गुसांई मिस एशिया वर्ल्ड ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य में कई ऐसे डेस्टिनेशन हैं जिन्हें ग्लोबल प्लेटफाॅर्म पर पेश कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य की पहचान उत्तराखण्ड की महिलाऐं हैं उनकी संस्था द्वारा 10 हजार से ज्यादा महिलाओं को ट्रेनिंग दी गयी हैं जो रिंगाल, भीमल से उत्पाद बनाकर आत्मनिर्भर बन रही हैं।   

क्षेत्रीय निदेशक अनिल तनेजा ने बताया कि, उत्तराखंड ट्रैवल डायरी ट्रैवल एक्सपो द्वारा प्रदान किया गया एक महत्वपूर्ण मंच है, जिसकी 50 से अधिक देशों में पहुंच है, उत्तराखंड के हिमालयी राज्य के मुकुट महिमा के अनदेखे खजाने को दिखाने के लिए जो निश्चित रूप से पूरे विश्व से गुणवत्ता वाले पर्यटकों को आकर्षित करेगा और एक नई रोशनी में राज्य का प्रदर्शन करेगा।

ट्रैवल एक्सपी चैनल के सीईओ तनय चैथानी ने बताया कि उत्तराखण्ड राज्य के पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से ‘‘उत्तराखण्ड ट्रैवल डायरी’’ विषय पर आधारित यह फिल्म बनायी गयी हैं। जिसमें राज्य की रमणीक व अनदेखे स्थलों को दर्शाया गया है। यह फिल्म हिन्दी, अंग्रेजी, तमिल व बंगाली भाषा में बनायी गयी है।

ट्रैवल एक्सपी के निदेशक रोहन ने बताया कि उत्तराखण्ड राज्य के पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए यह फिल्म बनायी गयी है। उन्होंने कहा कि राज्य के 15 डेस्टिनेशन को इस फिल्म में प्रदर्शित किया गया है। जो 16 भाषाओं में 50 से ज्यादा देशों में शुक्रवार 5 मार्च से सांय 7ः30 बजे प्रसारित किया जायेगा। रोहन ने बताया कि इस फिल्म के 10 एपिसोड तैयार किये गये हैं। जिसमें उनके साथ हिलर नाम का एक डाॅग भी है जो उत्तराखण्ड राज्य की रमणीक स्थलों का भ्रमण करता हुआ दिखाई देगा।

यह भी पढ़ें -  इंडिया ट्रेवल मार्ट आईटीएम का हुआ शुभारंभ

प्रैसवार्ता का संचालन अध्यक्ष उत्तराखंड पीएचडीसीसीआई वीरेंद्र कालरा तथा राज्य अध्याय पीएचडीसीसीआई के उत्तराखंड पर्यटन समिति के अध्यक्ष हेमंत कोचर ने किया।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page