कुमाऊं आयुक्त श्री अरविंद सिंह ह्यांकी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आपदा कार्यो की ली बैठक

ख़बर शेयर करें

पिथौरागढ़ -कुमाऊं आयुक्त श्री अरविंद सिंह ह्यांकी द्वारा बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनपद पिथौरागढ़ में प्राकृतिक आपदा से क्षतिग्रस्त विभागीय सार्वजनिक परिसंपत्तियों के निर्माण हेतु राज्य आपदा मोचक निधि,राज्य आपदा न्यूनीकरण निधि के अंतर्गत प्राप्त धनराशि के सापेक्ष विभागों द्वारा किए गए कार्यों की विभागवार समीक्षा की गई।


आपदा के कार्यों की समीक्षा के दौरान आयुक्त कुमाऊं ने कहा कि गत मानसून काल में पिथौरागढ़ के सीमांत क्षेत्र में आई भीषण आपदा के उपरांत जिलाधिकारी पिथौरागढ़ के नेतृत्व में विभागों द्वारा त्वरित रिस्पॉन्स कर राहत एवं बचाव के कार्य कराए गए जो सराहनीय रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसके उपरांत क्षेत्र में क्षतिग्रस्त विभिन्न परिसंपत्तियों व आपदा प्रबंधन के कार्य भी अत्यंत आवश्यकीय होते हैं उन कार्यों को भी समय पर पूर्ण करना विभागों की प्रमुख जिम्मेदारी है।

उन्होंने जिले में विभिन्न विभागों द्वारा किए जा रहे आपदा कार्य एवं पुनर्निर्माण कार्यों की कार्यदाई संस्थावार समीक्षा करते हुए विभागों को निर्देश दिए कि आपदा कार्यों को प्राथमिकता से यथासमय पर पूर्ण करें। इस हेतु अधिकारी जिम्मेदारी से कार्य करें।आपदा को प्रत्येक अधिकारी एक विशेषता महत्ता देते हुए व्यक्तिगत जिम्मेदारी से कार्यों को पूर्ण करें ताकि निकट भविष्य में आने वाली आपदा को हम कम कर सकें।उन्होंने कहा कि जिले में आपदाओं की घटनाओं को रोकने एवं कम करने हेतु जो भी प्रस्ताव व परियोजनाएं बनाए जाने की आवश्यकता है संबंधित विभाग आगामी 15 दिनों में उनके प्रस्ताव तैयार कर शासन को प्रस्तुत करें,ताकि आगामी वर्षों में आपदा की घटनाओं को कम व रोका जा सके।साथ ही उन्होंने आगामी आपदाकाल हेतु अभी से तैयारी करने के निर्देश दिए। समीक्षा के दौरान आयुक्त कुमाऊँ ने कहा कि कार्यदाई साथ आपदा निर्माण कार्यों में भौतिक प्रगति के साथ ही वित्तीय प्रगति में भी तेजी लाएं, इस हेतु जिलाधिकारी व अपर जिलाधिकारी समय-समय कर आपदा निर्माण कार्यों की समीक्षा करें।

यह भी पढ़ें -  डीएम सविन बंसल ने बच्चों एवं महिलाओं की सुरक्षा हेतु सार्वजनिक कराए महत्वपूर्ण नंबर

वीसी के दौरान जिलाधिकारी डॉ विजय कुमार जोगदण्डे ने जिले में राज्य आपदा मोचक निधि,राज्य आपदा न्यूनीकरण निधि व राज्य से आपदा आर्यो हेतु जारी धनराशि के सापेक्ष विभागवार प्रगति की जानकारी दी गई। उन्होंने अवगत कराया कि राज्य आपदा मोचक निधि में 373.68 लाख स्वीकृत धनराशि में 195 कार्यों में से 42 पूर्ण हो गए हैं 115 में कार्य प्रगति पर हैं। इसके अतिरिक्त राज्य आपदा न्यूनीकरण में 199.75स्वीकृत धनराशि अंतर्गत 42 स्वीकृत कार्यों में से 14 पूर्ण हो गए हैं,25 गतिमान हैं। इसके अतिरिक्त राज्य से आपदा प्रबंधन कार्यों हेतु प्राप्त धनराशि में से 39 स्वीकृत कार्यों में से 4 पूर्ण तथा 20 कार्य प्रगति में वे 13 में टैण्डर प्रक्रिया पूर्ण कर अग्रिम कार्यवाही की जा रही है। विभागवार समीक्षा के दौरान जिला पंचायत व ग्रामीण निर्माण विभाग की धीमी प्रगति पर इन विभागों को एक मांह के भीतर पूर्ण कार्य के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें -  देवस्थानम बोर्ड में भारत सरकार के नामित होंगे दो अधिकारी

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page