गंगा किनारे हुआ 29वें सात दिवसीय अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव का शुभारंभ

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद व गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा संयुक्त रुप से आयोजित 29वें सात दिवसीय अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव का गंगा रिसोर्ट ऋषिकेश में मुख्यअतिथि कृषि मंत्री सुबोध उनियाल अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरीए पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण ने विधिवत रूप से वेद मंत्रों के बीच दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया।

Matrix Hospital

अंतरराष्ट्रीय योग फेस्टिवल के शुभारंभ के मौके पर प्रदेश के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने सभी संबोधित करते हुए कहा कि मुनिकीरेती व ऋषिकेश ऋषि मुनियों की भूमि होने के कारण योगनगरी के रूप में विश्व विख्यात जननी भी है। योग का महत्व मनुष्य के अन्दर की बुराइयों को समाप्त करए अच्छी गतिविधियों को संचालित करना है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को दुनिया में प्रचारित किया हैए उसका संदेश भी दुनियाभर में जाएगा।

पतंजलि योगपीठ के आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि कोरोना काल में योग का काफी महत्वपूर्ण स्थान रहा है। निरंतर योग करने से कोई भी बीमारी नहीं आती है। योग प्रवचन या कथा नहीं बल्कि प्रयोगात्मक कला है। जिसको करने से कोई भी बीमारी नजदीक तक नहीं आती है। उन्होंने कहा कि दुनिया की किसी भी दवाई में बीमारी का निदान नहीं हैए उसका निदान तो योग में ही है। योग और आयुर्वेद से दुनिया में जीवन के प्रति जागृति लाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में जो लोग योग कर रहे थे उसे किसी भी प्रकार की बीमारी नहीं हुई और जो योग नहीं कर रहे थे वह आज भी अवसाद की जिन्दगी में जी रहे हैं।

यह भी पढ़ें -  अपडेट- 18 एवं 19 फरवरी, 2021 को नैनीताल जनपद के भ्रमण पर रहेंगे सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी ने बताया कि योग की असली परिभाषा आत्मा का परमात्मा से मिलन करवाना है। योग समाधि की ओर भी ले जाता है। जिसको करने के लिए अपनी दिनचर्या में परिवर्तन करने की आवश्यकता है। गढ़वाल मंडल विकास निगम के अध्यक्ष महावीर सिंह रांगड ने कहा कि योग हमारी प्राचीन सभ्यता है। जिसके प्रचार प्रसार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काफी योगदान रहा है। जिसके कारण आज देश ही नहीं दुनिया में योग के प्रति लोगों की जिज्ञासा बढ़ी है। ऋषिकेश व मुनिकीरेती योगनगरी के रूप में विश्व में विख्यात हुई है। उनहोंने कहा कि आज योग सप्ताह में जो योगी प्रतिभाग कर रहे हैंए वह यहां से योग सीख कर पूरी दुनिया में इसका प्रचार.प्रसार करें।

गढ़वाल मंडल के प्रबंध निदेशक डॉ आशीष चैहान ने बताया कि भारत सरकार व राज्य सरकार की कोरोना संक्रमण की गाइडलाइन का पालन करते हुए सभी कक्षा व्यवस्थाएं की गई है। जिसके चलते अंतरराष्ट्रीय योग महोत्सव में इस वर्ष 350 से अधिक साधकों ने अपना पंजीकरण कराया। जिसमें अंतरराष्ट्रीय स्तर के टीवी कार्यक्रम मास्टर शेफ विजेता पंकज भदोरिया भी शामिल हो रहे हैं। जिनकी देखरेख में साधकों को हेल्दी खाना भी परोसा जाएगा। इसी के साथ फूड प्रतियोगिता भी आयोजित की जाएगी। इस दौरान उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्रों द्वारा योग के साथ धोती नीति का प्रदर्शन भी किया गया।

यह भी पढ़ें -  आटोमेटेड हैंड ऑपरेटेड व्हील चेयर व रैंप सुविधा की हुई शुरूआत- मेलाधिकारी दीपक रावत

इस मौके पर गढ़वाल मंडल विकास निगम के उपाध्यक्ष कृष्ण कुमार सिंघल नगर पालिका मुनिकीरेती के अध्यक्ष रोशन रतूड़ी दर्जाधारी राज्यमंत्री करण वोहराए विवेक चौहान अपर निदेशकए उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद गुरु गोपाल दास स्वामी परमात्मानंद ऊषा माताए योगी सिद्धार्थ ग्रैंडमास्टर अक्षरए समाजसेवी बच्चन पोखरियाल ऋषिकेश मंडी परिषद के अध्यक्ष विनोद कुकरेतीए पुष्पा बर्थवालए स्वामी आत्मा स्वरूप भाजपा नेता चंद्रवीर पोखरियाल आदि मौजूद रहे।

Ad-Pandey-Cyber-Cafe-Nainital
Ad-Jamuna-Memorial
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page