मल्लीताल पंत पार्क और माल रोड से हटेंगे फड़ वेंडर जोन को लेकर हुई पालिका में बैठक

ख़बर शेयर करें

शहर के पंत पार्क और माल रोड में अब नहीं लग पाएंगे फड़ ईओ अशोक वर्मा की अध्यक्षता में वेंडर जोन की हुई बैठक में निर्णय लिया गया कि पंत पार्क और माल रोड से अनिवार्य रूप से फड़ हटाए जाएंगे। 121 फड़ कारोबारियों को पूर्व में चिन्हित किए गए बारापत्थर, तल्लीताल और किलबरी रोड में विस्थापित किया जाएगा। इसके अलावा 180 अन्य आवेदकों को भी फड़ लगाने की अनुमति देने पर विचार किया जा रहा है पालिका सभागार में वेंडर जोन कमेटी की बैठक आयोजित की गई। जिसमें पंत पार्क में नियम विरुद्ध फड़ लगाने का मामला जोर-शोर से उठा। बैठक में मौजूद मल्लीताल व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन नेगी ने कहा कि पालिका की ओर से 121 फड कारोबारियों को पात्रता सूची में शामिल किया गया है। जिसके विपरीत देखा जा रहा है की 500 से अधिक लोगों द्वारा पार्क में फड़ लगाए जा रहे हैं। इसके अलावा हाई कोर्ट द्वारा निर्धारित की गई शाम चार से छह बजे की समयावधि का भी कारोबारी पालन नहीं कर रहे हैं। उन्होंने जल्द इस पर संज्ञान लेने की बात कही।

यह भी पढ़ें -  महंगाई को लेकर कांग्रेसियों ने फूंका पुतला

ईओ अशोक वर्मा ने कहा कि दो हजार अट्ठारह में हाईकोर्ट ने आदेश दिए थे कि फड़ कारोबारियों के लिए वेंडर जोन चिन्हित कर उन्हें विस्थापित किया जाए। यह भी कहा था कि जब तक यह व्यवस्था नहीं बनाई जाती, तब तक अस्थाई रूप से पात्र कारोबारियों को शाम चार से छह तक पंत पार्क में फड़ लगाने की अनुमति दी जाए। आदेश के बाद पूर्व में चार स्थलों बारापत्थर शौचालय व पुलिस चौकी के समीप, तल्लीताल टैक्सी स्टैंड और किलबरी रोड का चयन किया गया था। जहां लॉटरी सिस्टम से कारोबारियों को वेंडर जोन आवंटित किया जाना था, लेकिन विरोध के चलते आवंटन नही हो पाया। कारोबारियों ने कहा कि चिन्हित किये गए स्थल वेंडर जोन निर्धारण के मानकों पर खरे नही उतरते। उन्होंने पालिका पर निर्णय थोपने का आरोप लगाया। इस बीच कारोबारियों और ईओ के बीच काफी तनातनी भी हुई। निर्णय लिया गया कि जल्द फड़ो को हटाने की कार्रवाई की जाएगी। पात्र 121 फड़ कारोबारी को चिन्हित किए गए स्थलों पर ही फड़ लगा पाएंगे। ईओ ने बताया कि इसके अलावा 180 अन्य लोगों द्वारा फड़ लगाने को लेकर आवेदन किया है। जिस पर फिलहाल विचार किया जा रहा है। क्योकि चिन्हित किये गए वेंडर जोन का सीमित क्षेत्रफल है। जिसके मद्देनजर यदि कारोबारियों की संख्या में बढ़ोत्तरी होती है तो समय सीमा निर्धारित कर अलग-अलग पाली में अलग-अलग लोगों द्वारा फड़ लगाए जाएंगे। बैठक में नगर स्वास्थ्य अधिकारी जीएस धर्मसत्तु, राजस्व निरीक्षक राजेश सनवाल, टीएस लता आर्य, मल्लीताल व्यापार मंडल अध्यक्ष किशन सिंह नेगी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजेश वर्मा, कनिष्ठ उपाध्यक्ष रईस अहमद, सचिव त्रिभुवन फर्त्याल, उप सचिव परीक्षित साह, कोषाध्यक्ष सिद्धार्थ क्षेत्री, एसआई हरीश सिंह, रेहड़ी पटरी हॉकर्स के अध्यक्ष जमीर अहमद, खोखा फड़ एशोसिएशन अध्यक्ष दीवान सिंह, स्थानीय शिक्षित बेरोजगार फड़ व्यवसाय समिति संजय कुमार, फड़ पटरी एकता व्यवसाय समिति वीएस रावत, शिवराज नेगी मौजूद थे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page