जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ अतिंम छोर पर खडे व्यक्ति तक पहुॅचाना करें सुनिश्चित- उपाध्यक्ष (कैबिनेट स्तर) श्री शेर सिंह गडिया

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी – राज्य स्तरीय बीस सूत्री कार्यक्रम एवं क्रियावन्त समिति उपाध्यक्ष (कैबिनेट स्तर) श्री शेर सिंह गडिया ने सर्किट हाउस में बीस सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा की। उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को सख्त निर्देश दे हुए कहा कि बीस सूत्रीय कार्यक्रम के कार्यो में कोताही व ढिलाई कतई बरदास नही की जायेगी। उन्होने कार्यो में गति लाकर शतप्रतिशत लक्ष्य पूर्ण कर सभी को ए श्रेणी में लाने के निर्देश दिये।
उन्होने कहा कि अधिकारी संवेदशील होकर कार्य करें तथा जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ अतिंम छोर पर खडे व्यक्ति तक पहुॅचाना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा सभी अधिकारी आपसी सम्वन्य कर कार्यो को धरातल उतारंे ताकि जनता को समय से वास्तविक लाभ मिल सके। उन्होने महाप्रबन्धक उद्योग व अग्रणी बैंक अधिकारी को निर्देश दिये कि वे मुख्यमंत्री रोजगार योजना व प्रधानमंत्री स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत प्राप्त प्रार्थना-पत्रों पर बैंक से समन्वय करते हुए शीघ्रता से ऋण स्वीकृत कराना सुनिश्चित करें।
उपाध्यक्ष श्री गडिया ने बैठक में अनुपस्थित अधिकारियों को कारण बताओं नोटिस जारी करने के निर्देश अर्थ एवं संख्याधिकारी को दिये। उन्होने कहा कि अधिकारी तैयारी के साथ बैठक में आयें तथा वास्तविक डाटा ही प्रस्तुत करें। उन्होने बीस सूत्री कार्यक्रम टास्कफोर्स के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे कार्यो का स्थलीय निरीक्षण कर निरीक्षण नोट मुख्य विकास अधिकारी को प्रस्तुत करें। उन्होने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिये कि वे टास्कफोर्स अधिकारियों की न्याय पंचायतवार-चक्रवार ड्यूटी लगाये। उन्होने कहा कि कार्यो के निरीक्षण एंव सत्यापन के समय बीस सूत्रीय कार्यक्रम के सदस्यों को भी शामिल करें। श्री गडिया ने पीएमजीएसवाई, अनुसूची जाति के परिवारों को अर्थिक सहायता व सामुदायिक निवेश कार्यक्रम में डी श्रेणी में होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्यो में गति लाकर ए श्रेणी में लाने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये।

यह भी पढ़ें -  मेलाधिकारी दीपक रावत ने महाशिवरात्रि पर्व स्नान की दृष्टि से ली महत्वपूर्ण बैठक


बीस सूत्री कार्यक्रम श्री गडिया ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, उज्जवला योजना, अटल आयुष्मान योजना, प्रधानमंत्री कौशल योजना, डे-राष्टीय शहरी आजीविका मिशन, मृदा स्वास्थ्य परीक्षण, फसल बीमा योजना, किसानों की आय दुगनी करने के प्रयास, मुद्रा योजना, मुख्यमंत्री सौर स्वारोजगार योजना, श्रमिक कल्याण, मनरेगा, किसान पेशन योजना, जन औषधि केन्द्र, नरेगा, किसान सम्मान निधि, सर्वे शिक्षा, टेक होम राशन, ग्रोथ सेन्टर,अमृत योजना, जल जीवन मिशन की विस्तृत समीक्षा की। समीक्षा दौरान उन्होने सम्बन्धित अधिकारियों को कार्यो में गति लाकर योजनाओं का लाभ जनता को पहुॅचाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि अनत्योदय सर्वे की जानकारी ग्राम पंचायत की खुली बैठक में दी जाये ताकि ग्रामवासियों को सर्वे की जानकारियां हो सके। श्री गडिया ने जल जीवन मिशन को अति महत्वपूर्ण बताते हेुए कहा कि योजना के फीड सर्वे पर विशेष ध्यान दिया जाये तथा ऊॅचाई वाले ग्रामों व तोको के लिए लिफ्ट योजनाओ के प्रस्ताव बनाये जाये।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी श्री नरेन्द्र सिंह भण्डारी ने सभी अधिकारियों को बैठक में दिये गये निर्देश का अनुपालन करते हुए कार्यो में गति लाकर एश्रेणी मे लाने के निर्देश दिये। उन्हांेने कहा कि कार्यो का टास्कफोर्स अधिकारी सत्यापन कर रिपोर्ट प्रस्तुत करें। जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी एलएम जोशी ने बताया कि बीस सूत्री कार्यक्रम 19 मदों में ए श्रेणी में तथा 1 मद में बी श्रेणी तथा 3 मदों में डी श्रेणी मे है।
इसके उपरान्त बीस सूत्री उपाध्यक्ष श्री गडिया ने एनआरएलएम के अन्तगर्त महिला समूह द्वारा तहसील हल्द्वानी में संचालित हिलांस केन्टीन, केएमवीएम पार्किंग में हिलांस शाॅप, बहुददेशीय वित्त विकास निगम द्वारा अनुसूचित जाति स्वरोजगार योजना के अन्तगर्त देवली तल्ला में विपिन राज का जनरल स्टोर, रूप राज का जनरल स्टोर,विजय कुमार का जनरल स्टोर, नेहा देवी का भैस पालन व बीस सूत्री कार्यक्रम के अन्तगर्त तारा नवाड लछमपुर गौलापर में स्थापित मै. गायत्री फ्लोर मील स्थलीय निरीक्षण किया।

यह भी पढ़ें -  हरिद्वार कुंभ-मीडिया का बदलता स्वरूप-समाधान और चुनौतियां विषय पर मीडिया कार्यशाला का किया गया आयोजन
लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
You cannot copy content of this page