बड़ी खबर- दांपत्य जीवन को लेकर हुई अनबन तो पत्नी ने करा दी पति की हत्या

ख़बर शेयर करें


नैनीताल- विगत 29 मई को चन्दन सिंह गोनिया, पुत्र श्री शिवराज सिंह गोनिया, निवासी- ग्राम गौनियारो पट्टी पदमपुर तह0 धारी जिला नैनीताल की पत्नी यशवन्ती अपने मायके अमजड गई थी। दिनांक 31 मई को यशवन्ती द्वारा चन्दन को फोन कर अमजड बुलाया तथा उसके बुलाने पर 01 जून को मृतक के साले दिनेश द्वारा चन्दन को फोन कर डुंगरी बैण्ड मे रुक जाने व उसे खुद गाड़ी लेकर लेने हेतु आने की सूचना दी। जिस पर चन्दन 01 जून को अपने घर गौनियारों से अपने ससुराल अमजड़ को आया जो सायंकालीन पतलोट से पैदल-पैदल अमजड़ को आया तथा रास्ते में ही ग्राम डुंगरी से लापता हो गया। परिजनों द्वारा काफी तलाश करने पर जब वह नहीं मिला तो घटना के कुछ दिनों पश्चात गुमशुदा चन्दन उपरोक्त का शव 06 जून को डुंगरी धार के नीचे जंगल से बरामद हुआ। इस पर मृतक चन्दन के भाई सुरेश गोनिया द्वारा घटना के सम्बन्ध में थाना मुक्तेश्वर में मुO FIR NO 29/22, धारा 302 भादवि बनाम अज्ञात पंजीकृत किया गया।
उक्त घटना के सम्बन्ध में प्रारम्भ से ही वादी पक्ष द्वारा मृतक के ससुराल पक्ष पर चन्दन की हत्या किये जाने का शक व्यक्त किया जा रहा था शक के आधार पर गठित नैनीताल पुलिस टीम द्वारा दिनांक 27 जुलाई 2022 को मृतक की पत्नी यशवन्ती, साला दिनेश रावत व मृतक की पत्नी का जीजा नरेन्द्र मेवाड़ी का पॉलीग्राम टेस्ट कराया गया। घटनास्थल दूरस्थ राजस्व क्षेत्र होने व उचित संसाधन न होने के कारण पुलिसउपमहानिरीक्षक कुमायूँ परिक्षेत्र नैनीताल व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल महोदय द्वारा क्षेत्राधिकारी भवाली प्रमोद शाह के नेतृत्व में हत्याकाण्ड के अनावरण हेतु एक SIT टीम का गठन किया गया साथ ही जनपद SOG को भी प्रकरण के अनावरण हेतु लगाया गया। प्रकरण के संवेदनशील होने के कारण श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा अभियोग मे नियमित रूप से समीक्षा की गयी तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये व पुलिस अधीक्षक अपराध नैनीताल तथा क्षेत्राधिकारी भवाली महोदय द्वारा भी घटना के अनावरण हेतु कई दिन तक घटनास्थल के पास कैम्प किया गया SIT टीम व SOG द्वारा गांव-गांव जाकर लगभग 250 से अधिक लोगों से घटना के सम्बन्ध मे पूछताछ की गयी। पूछताछ के दौरान अभियुक्त पक्ष के कथन बार-बार बदलते दिखे तथा शक उत्पन्न हुआ कि 29 मई को रामलीला देखने आई यशवन्ती ने 01 जून को ही चन्दन को क्यों बुला लिया। प्रकाश में आया कि यशवन्ती व चन्दन का विवाह लगभग 03 वर्ष पूर्व हुआ था दोनो में कुछ बातो को लेकर दाम्पत्य जीवन ठीक नहीं चल रहा था और यशवन्ती अपने पति चन्दन से मुक्त होना चाहती थी। इसके लिये यशवन्ती ने दिनेश रावत को अपनी बहन होने का वास्ता दिया तथा कहा कि आज मैने चन्दन को बुला रखा है तुम उसे मार दो नहीं तो मैं मर जाऊंगी।
दिनांक 01 जून 2022 को अमजड गांव में पूजा थी तो गांव के अधिकांश लोग पूजा मे देवीधुरा गये थे तथा दिनेश व कमल भी देवीधुरा मे गये थे। दिनेश ने कमल को अपनी बहन का दर्द सुनाया जिस पर कमल रावत उसकी मदद को तैयार हो गया जिस पर योजना बनाकर दिनेश ने अपने साथी कमल रावत के फोन से चन्दन को फोन किया तथा डुंगरी बैण्ड में ही रूकने को कहा तथा कहा कि डुंगरी से ही खा पीकर आयेंगे तथा शाम को रामलीला से दिनेश और कमल चुपचाप कमल की गाड़ी लेकर डुंगरी बैण्ड पहुंच गये तथा चन्दन से हरेन्द्र को फोन करवाकर इस बात का विश्वास दिलवा दिया कि वह गांव पहुंच गया है उसे लेने आने की आवश्याकता नहीं है। इसी दौरान हत्यारों ने मिलकर घटनास्थल पर चंदन को पत्थरों से मारकर हत्या कर दी तथा उसका शव नीचे जंगल में फेंक दिया तथा लोगो की नजरो मे बने रहने के लिये दोनो चुपचाप रामलीला में आ गये।
कई चरणों की पूछताछ व अभियुक्तगणों के लगातार बदलते बयानों व पॉलीग्राफ टेस्ट के आधार पर दिनेश रावत व कमल तथा यशवन्ती ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। जिन्हें चन्दन की हत्या किये जाने के सम्बन्ध में गिरफ्तार किया गया है।
जिसका अनावरण आज श्री प्रमोद कुमार साह श्रीमान क्षेत्राधिकारी भवाली की अध्यक्षता में भवाली थाना परिसर में किया गया। हत्याकांड के सफल अनावरण एवं हत्यारों की गिरफ्तारी पर पुलिस टीम के उत्साहवर्धन हेतु श्रीमान वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल महोदय द्वारा 5000 रुपये के ईनाम की घोषणा की गयी है। हत्या में शामिल अभिगण कमल सिंह रावत पुत्र चेत सिह रावत निवासी ग्राम अमजड़ पट्टी पदमपुर तह) धारी जिला नैनीताल उम्र 25 वर्ष, दिनेश सिंह रावत पुत्र चन्दन सिंह रावत निवासी ग्राम अमजड़ पट्टी पदमपुर तह) धारी जिला नैनीताल उम्र-22 वर्ष, यशवन्ती देवी पत्नी स्व0 चन्दन सिंह गोनिया पुत्री चन्दन सिंह रावत निवासी ग्राम अमजड़ पट्टी पदमपुर तहसील-धारी जिला नैनीताल उम्र 21 वर्ष। बरामदगी एक अदद पत्थर आला कत्ल। गिरफ्तारी टीम में श्री महेश जोशी थानाध्यक्ष मुक्तेश्वर, 30नि0 श्री नन्दन सिंह रावत (SOG प्रभारी नैनीताल), कानि0 462 नापु० विपिन शर्मा, कानि0 181 नापु0 राजेश कुमार (SIT), कानि0 663 नापु० प्रदीप पिलखवाल (SIT), कानि0 902 नापु0 चन्द्रशेखर मल्होत्रा (SIT), म०कानि0 608 नापु० सुमन राणा, कानि0 त्रिलोक सिंह (SOG), कानि0 अशोक (SOG) शामिल रहे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 7017197436 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page