निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं की जायेगी बरदाश्त- आयुक्त सुशील कुमार

ख़बर शेयर करें

नैनीताल – कुमाऊॅ कमिश्नर श्री सुशील कुमार ने मण्डल 2 करोड़ से ज्यादा की लागत से चल रहे निर्माण कार्यों की बुद्धवार को एलडीए सभागार में समीक्षा की। उन्होंने समीक्षा के दौरान सभी कार्यदायी संस्थाओं को निर्देशित करते हुए कहा कि निर्माण कार्यों की गुणवत्ता में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरदाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कार्यों की गुणवत्ता मापने एवं बनाये रखने हेतु कार्यों की तृतीय पक्ष से जाॅच कराने के निर्देश दिये। उन्होंने विभिन्न निर्माण कार्यों के पूर्ण होने की समय-सीमा निर्धारित करते हुए कहा कि धनराशि होने के बावजूद भी विभिन्न कारणो से पिछड़े निर्माण कार्यों में तेजी लाकर समयबद्धता से पूर्ण किया जाये। उन्होंने निर्माण कार्यों में गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिये। उन्होंने नए कार्यों में टैण्डर प्रक्रिया शीघ्रता से पूरी करते हुए नए कार्यों को जल्द से जल्द शुरू कराने के निर्देश दिये। उन्होंने कार्यों में आवंटित बजट खर्च होने की स्थिति में उपयोगिता प्रमाण पत्र (यूसी) तथा बजट आवंटन की मांग समय से करने के निर्देश दिये।
उन्होंने पेयजल निगम की समीक्षा के दौरान राजकीय महाविद्यालय रूद्रपुर में भवन निर्माण कार्य जल्दी शुरू करने, एकलव्य आदर्श विद्यालय खटीमा का काम जारी रखने, वाणिज्यकर कार्यालय काशीपुर का विद्युतीकरण कार्य तुरन्त करने, राजकीय बाल संरक्षण गृह रूद्रपुर का निर्माण कार्य अक्टूबर तक पूर्ण कराने, राजकीय मेडिकल काॅलेज हल्द्वानी में चल रहे निर्माण कार्य को प्राथमिकता से पूर्ण करने, अन्तराष्ट्रीय जू एण्ड सफारी कार्य को जल्दी पूर्ण करने, बस डिपो रामनगर का निर्माण कार्य नवम्बर तक पूरा करने, किशोरी गृह  अल्मोड़ा का कार्य सितम्बर माह तक पूर्ण करने, नर्सिंग संस्थान चम्पावत के होस्टल को छोड़कर शेष कार्य एक माह के भीतर पूरे करने, आईटीआई खेतीखान के निर्माण कार्य में तेजी लाने, राजकीय पाॅलीटैक्निक मूनाकोट को हैण्ड ओवर करने, पिथौरागढ़ में बहुद्देशीय क्रीड़ा हाॅल निर्माण कार्य शीघ्र शुरू करने के निर्देश दिये। उन्होंने मण्डल की विभिन्न सीएचसी में चल रहे निर्माण कार्यों को शीघ्रता से पूर्ण कराने के लिए समय से आवश्यक धन आवंटन हेतु निदेशक एनएचएम से पत्राचार कराने के निर्देश उप निदेशक अर्थ एवं संख्या को दिये।
उन्होंने यूपी निर्माण निगम की समीक्षा के दौरान नर्सिंग काॅलेज पिथौरागढ़ का बाहरी निर्माण कार्य 30 सितम्बर तक पूरा करने, मेडिकल काॅलेज हल्द्वानी का आॅडोटोरियम 30 नवम्बर तक पूरा करने, पाॅलीटैक्निक चम्पावत का कार्य 31 अगस्त तक पूरा करने के निर्देश दिये। उन्होंने लोनिवि को तहसील जसपुर के अनावासीय भवन निर्माण हेतु रिवाईज स्टीमेट तुरन्त भेजने, मण्डी परिषद के कार्यों की समीक्षा के दौरानराजकीय महाविद्यालय पतलोट के निर्माण कार्य मे तेजी लाने, उत्तराखण्ड मुक्त विश्वविद्यालय का कार्य समय से पूर्ण करने के निर्देश दिये। उन्होंने केएमवीएन के कार्यों की समीक्षा के दौरान नारायण नगर कार पार्किंग तथा सूखाताल झील सौन्दर्यकरण एवं पुर्नजीवितीकरण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये।
बैठक में उप निदेशक अर्थ एवं संख्या राजेन्द्र तिवारी महाप्रबन्धक केएमवीएन एपी वाजपेयी, महाप्रबन्धक पेयजल निगम ओमप्रकाश, अधीक्षण अभियंता सिंचाई पीके दीक्षित, परियोजना प्रबन्धक ब्रिडकुल रोहित नरियाल, मुख्य अभियंता ग्रामीण निर्माण विभाग एके पन्त, अधीक्षण अभियंता लोनिवि एबी काण्डपाल, महिपाल सिंह रावत, प्रोजेक्ट मैनेजर यूपीआरएनएन संयज चैधरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page