तीन दिवसीय प्रशिक्षण आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ आयोजित कार्यक्रम का हुआ समापन

ख़बर शेयर करें

नैनीताल – डॉ रघुनंदन सिंह टोलिया उत्तराखंड प्रशासन अकादमी नैनीताल में आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ आयोजित किया गया। प्रशिक्षण के अंतिम दिन का समापन सत्र में कार्यक्रम निदेशक डॉक्टर मंजू पांडे द्वारा कार्यक्रम की आवश्यकता, पिछले कुंभ मेला अनुभवों, त्योहारों, चार धामों आदि विषयों के बारे में व्यवस्था प्रबंधन के महत्व को बतलाया। संयुक्त निदेशक संजय कुमार ने अपने सम्बोधन में कहा कि आगामी कुंभ मेला 2021 को देखते हुए सुदृढ़ व्यवस्थाओं के लिए विन्रम व्यवहार का प्रयोग करना चाहिए, कोई भी ऐसी वाणी नहीं प्रयोग नही करना चाहिए जिससे वंहा का वातावरण बिगड़े। उन्होंने प्रतिभागियों को मैनेजमैन ऑफ क्राउड विषयक प्रशिक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत प्रतिभागियों से कुम्भ मेला 2021 हेतु कार्ययोजना बनाये जाने के लिए 36 प्रतिभागियों का 4-4 ग्रुप बनाकर प्रत्येक ग्रुपों माध्यम से बिंदुवार रिपोर्ट को एलईडी डिस्प्ले द्वारा प्रस्तुतीकरण करने को कहा। इस प्रशिक्षण में प्रदेश के सभी जिलों के प्रशासनिक,पुलिस,लोनिवि, स्वास्थ्य, होमगार्ड, जिला पूर्ति, एसडीआरएफ, सूचना विभाग,जिला पंचायत विभागो के साथ अन्य आवश्यक सेवाएं दे रहे विभागों के अधिकारियों को हरिद्वार में होने जा रहे कुम्भ मेले से संबंधित तीन दिवसीय प्रशिक्षण का आज शनिवार को समापन हुआ। इस प्रशिक्षण में यह बताया जाएगा कि हरिद्वार कुंभ मेले में आने वाले करोड़ों श्रद्धालुओं को कैसे मैनेज किया जाए और साथ ही ट्रैफिक व्यवस्था व साफ सफाई व covid-19 के मद्देनजर लोगो को कैसे जागरूक किया जाए।

आखरी दिन में नई दिल्ली राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन के श्री संतोष कुमार ने ऑनलाइन के माध्यम से डिजास्टर मैनेजमेंट, सोशल मीडिया इंफॉर्मेशन, एक्शन प्लान इन इमरजेंसी ड्यूटी के बारे में व्याख्यान दिया पर दिया।

कार्यशाला के अंत मे संयुक्त निदेशक द्वारा सभी प्रतिभागियों को ट्रेनिंग का प्रमाण पत्र व ग्रुप फोटोग्राफ वितरित किये और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। संचालन डॉ मंजू पांडे ने किया।

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 हमारे WhatsApp ग्रुप से जुड़ें

👉 हमारे Facebook पेज़ को लाइक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content of this page