आंनद सिंह उनियाल, श्रद्धा कांडपाल, धन सिंह घरिया, सौवेंद्र सिंह एवं के०एल० तलवाड़ को मिलेगा स्पर्श गंगा शिक्षाश्री सम्मान

ख़बर शेयर करें


हिमालयन एजुकेशन रिसर्च एंड डेवलपमेंट सोसाइटी (हर्ड्स) द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में किये गये शैक्षिक नवाचार एवँ क्रियात्मक शोध के लिए उत्तराखंड राज्य के 05 शिक्षकों को “स्पर्श गंगा शिक्षाश्री सम्मान 2021” से सम्मानित किया जायेगा। इन सभी शिक्षकों को यह सम्मान 17 दिसंबर को स्पर्श गंगा दिवस के अवसर पर दिया जायेगा। ज्ञात हो यह सँस्था हर वर्ष उत्तराखंड राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 05 शिक्षक का चयन शिक्षक दिवस के अवसर पर करती है।

पद्मश्री श्री कल्याण सिंह रावत ‘मैती’ की अध्यक्षता में गठित चार सदस्यीय चयन समिति जिसमें भक्तदर्शन अवार्ड से सम्मानित पर्यावरणविद डॉ० एस०डी० तिवारी, प्रो० प्रभाकर बडोनी, डॉ० सर्वेश उनियाल शामिल रहे, ने छात्र-छात्राओं पर किये गये नव अभिनव, शैक्षिक नवाचार एवं क्रियात्मक शोध के आधार पर 05 शिक्षकों का चयन किया गया। चयनित शिक्षकों को 17 दिसंबर को स्पर्श गंगा दिवस के अवसर पर 11 हजार रूपये के नकद पुरुस्कार, स्मृति चिन्ह एवं प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया जायेगा।

यह भी पढ़ें -  ब्लॉक स्तरीय गणित विज्ञान मेला, धौलाखेड़ा में बच्चों ने दिखाई प्रतिभा

चयन समिति की अनुशंसा पर इस वर्ष राष्ट्रीय सेवा योजना के पूर्व राज्य समन्वयक एवं उत्तराखंड मे रक्तदान अभियान के प्रणेता प्रो० आंनद सिंह उनियाल, विशेष आवश्यकता वाले बच्चों के पुनर्वास एवं शिक्षा की दिशा में कार्य करने वाली सृजन स्पास्टिक सोसाइटी की संस्थापक श्रीमती श्रद्धा कांडपाल, प्रकृति संरक्षण के लिए वर्ष 2006 में विद्यालय की खाली बंजर जमीन पर मिश्रित वन के विचार से कार्य शुरू कर स्पर्श गंगा वन तैयार करने वाले ‘पेड़ वाले गुरुजी’ के उपनाम से मशहूर श्री धन सिंह घरिया, सामजिक कुरीतियों के विरुद्ध जन जागरुकता अभियान चलाने के लिए उत्तरकाशी के श्री सौवेंद्र सिंह के साथ ही मेघावी एवं निर्धन विद्यार्थियों की शिक्षा के लिए अभूतपूर्व प्रयास करने वाले प्रो० के०एल० तलवाड़ को यह गौरव प्राप्त हो रहा है।

स्पर्श गंगा अभियान के राष्ट्रीय समन्वयक प्रो० अतुल जोशी ने सभी शिक्षकों की प्रतिबद्धता, समर्पण और उत्कृष्ट योगदान के प्रति अपना आभार व्यक्त करते हुए कहा कि शिक्षक दिवस के अवसर पर आप सभी शिक्षकों के साथ जुड़कर मुझे बहुत प्रसन्नता हो रही है। उन्होंने बताया कि पूर्व केंद्रीय शिक्षा मंत्री एवं स्पर्श गंगा अभियान के प्रणेता डॉ० रमेश पोखरियाल निशंक की प्रेरणा से प्रति वर्ष हर्ड्स संस्था द्वारा शैक्षणिक माहौल बनाने और बहुआयामी कार्य से शैक्षणिक एवं सामाजिक गतिविधियों को बढ़ावा देने समेत कई प्रतिभा को देखते हुए इन शिक्षकों का चयन किया जाता है।

यह भी पढ़ें -  माननीय मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भारत मौसम विज्ञान विभाग के 146 वें स्थापना दिवस समारोह में किया प्रतिभाग

इस अवसर पर हिमालयन एजुकेशन रिसर्च एंड डेवलपमेंट सोसाइटी (हर्ड्स) के अध्यक्ष श्री के०के० पांडेय ने कहा कि यह हमारी संस्था के लिए गर्व का विषय है कि डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन जी के जन्म दिवस पर आयोजित शिक्षक दिवस के मौके पर समाज में अपने कार्यों से एवं शिक्षा व्यवस्था में उल्लेखनीय योगदान देने वाले प्रेरणाप्रद शिक्षकों को सम्मानित करने का हमें अवसर प्राप्त हो रहा है।

इस अवसर पर श्री नवीन वर्मा सहित हर्ड्स के कार्यकारणी सदस्य डॉ० सुरेश डालाकोटी, डॉ० विनोद जोशी, डॉ० नवीन चंद्र जोशी, डॉ० जीवन चंद्र उपाध्याय, डॉ० मनोज पांडेय आदि उपस्थित रहे।

Ad

लेटेस्ट न्यूज़ अपडेट पाने के लिए -

👉 वॉट्स्ऐप पर समाचार ग्रुप से जुड़ें

👉 फ़ेसबुक पर जुड़ने हेतु पेज लाइक-फॉलो करें

👉 हमारे मोबाइल न० 9410965622 को अपने ग्रुप में जोड़ कर आप भी पा सकते है ताज़ा खबरों का लाभ

👉 विज्ञापन लगवाने के लिए संपर्क करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You cannot copy content of this page